VIDEO : बांगड़ में फिर एनएसयूआई का परचम, लॉ समेत अन्य 5 कॉलेजों पर एबीवीपी का कब्जा, तीन निर्दलीय जीते

Suresh Hemnani

Publish: Sep, 11 2018 06:33:55 PM (IST)

Pali, Rajasthan, India

पाली। जिले के बांगड़ महाविद्यालय में एनएसयूआई ने फिर जीत का परचम लहराया है। एनएसयूआई के राजेन्द्रसिंह राजपुरोहित ने एबीवीपी के मुकेश चौधरी को 684 मतों से शिकस्त दी। लॉ समेत जिले की अन्य पांच कॉलेजों में एबीवीपी के प्रत्याशी अध्यक्ष पर जीते हैं, जबकि तीन जगह निर्दलीय व अन्य जीतने में सफल रहे हैं। बांगड़ के अलावा जिले के आठ कॉलेजों में अध्यक्ष पद के लिए एनएसयूआई को कहीं भी सफलता नहीं मिल पाई। पैनल में जरूर एनएसयूआई के प्रत्याशी विजयी रहे हैं।

बांगड़ कॉलेज में सुबह 11 बजे मतगणना शुरू हुई। मतगणना के दौरान कॉलेज के बाहर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई। सर्वप्रथम लॉ कॉलेज का परिणाम जारी हुआ। तत्पश्चात कन्या महाविद्यालय में मतगणना पूरी कर ली गई। जिले के अन्य कॉलेजों में भी दोपहर तक मतगणना पूरी कर ली गई। परिणाम आने के बाद विजेता खुशी से झूम उठे। वहीं हारने वालों को निराशा हाथ लगी। कॉलेज परिसर के बाहर छात्रों की भीड़ जमा रही। हर कोई परिणाम जानने के लिए उत्सुक रहा। ज्योंहि परिणाम घोषित किए गए, छात्रों ने जीत की खुशी में नारे लगाए।

लॉ कॉलेज में किस्मत ने दिया मेवाड़ा का साथ
लॉ कॉलेज में निर्दलीय प्रत्याशी सूरज राठौड़ और एबीवीपी प्रत्याशी जितेन्द्र मेवाड़ा के बीच बराबरी का मामला रहा। किस्मत ने मेवाड़ा का साथ दिया और वे जीत गए। दरअसल, सूरज और जितेन्द्र को 49-49 मत मिले। इस पर लॉटरी निकाली गई। लॉटरी में जितेन्द्र विजयी घोषित किए गए। लॉ कॉलेज में पूरा पैनल एबीवीपी ने जीता है। यहां एनएसयूआई के प्रत्याशी जनक शर्मा को 40 वोटों पर संतोष करना पड़ा। महासचिव पद के एबीवीपी के चैनराज बंजारा 20 वोट से जीत गए। बंजारा के सामने खड़े एनएसयूआई के प्रत्याशी श्रवण को 60 वोट मिल पाए। उपाध्यक्ष पद की एबीवीपी प्रत्याशी तेजस्वनी जीती है। तेजस्वनी को 80 और एएसयूआई की सुमन को 60 वोट मिले। वहीं एबीवीपी से संयुक्त सचिव दिनेश राणा जीते हैं। राणा को 72 वोट और एनएसयूआई की प्रत्याशी मीनाक्षी देवड़ा को 68 वोट मिले हैं।

कन्या महाविद्यालय निर्दलिय प्रत्याशी मानसी राजपुरोहित जीती
कन्या महाविद्यालय में अध्यक्ष पद के लिए निर्दलीय प्रत्याशी मानसी राजपुरोहित ने जीत दर्ज की है। उन्हें 186 वोट मिले। जबकि एनएसयूआई की प्रत्याशी मूमल भाटी को 127 वोट मिले। 27 मत खारिज हो गए। वहीं उपाध्यक्ष पद के लिए एनएसयूआई की प्रेक्षा को 189 वोट मिले तथा निर्दलीय शीतल को 103 वोट मिले। जबकि 48 वोट खारिज हुए। महासचिव पद के लिए एनएसयूआई की प्रत्याशी हिना और संयुक्त सचिव पद के लिए सेजल निर्विरोध निर्वाचित हो चुकी है।

कहीं झूमे तो कहीं निराशा हाथ लगी
जिले के सोजत, राणावास, फालना, सुमेरपुर, जैतारण, बाली व फालना के राजकीय महाविद्यालयों में छात्रसंघ चुनाव परिणाम को लेकर उत्सुकता का माहौल रहा। कॉलेजों के बाहर दिनभर छात्रों की भीड़ जमा रही। परिणाम आने तक विद्यार्थी ही नहीं, हर कोई परिणाम जानने के लिए उत्सुक रहा। सोशल मीडिया पर भी परिणाम का बेसब्री से इंतजार किया गया। बाली, फालना, जैतारण, लॉ कॉलेज पाली समेत पांच कॉलेजों में एबीवीपी ने जीत दर्ज कराई। यहां एबीवीपी के कार्यकर्ता खुशी से झूम उठे। इन कॉलेजों में अध्यक्ष पद के लिए एनएसयूआई को निराशा हाथ लगी।

सुमेरपुर में नए समीकरण, पूरा पैनल छात्र संघर्ष समिति के नाम
सुमेरपुर में छात्रसंघ चुनाव में नए समीकरण ने एबीवीपी और एनएसयूआई को करारा झटका दिया। यहां छात्र संघ समिति ने अध्यक्ष समेत चारों सीटों पर कब्जा जमाया। छात्र संघर्ष समिति के चुनाव जीतने से यहां एबीवीपी और एनएसयूआई कार्यकर्ता निराश हो गए। वहीं, समिति के छात्रों ने जीत पर खुशी जताई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned