VIDEO : बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बयानों पर भडक़े पाली के डॉक्टर्स, देखें पूरी खबर

Suresh Hemnani

Updated: 15 Jun 2019, 04:44:02 PM (IST)

Pali, Pali, Rajasthan, India

पाली। बंगाल में Bengal NRS Medical College के एक जूनियर चिकित्सक से मरीज के परिजनों द्वारा मारपीट करने की घटना के विरोध में पाली में शुक्रवार को चिकित्सकों ने बांगड़ अस्पताल में काली पट्टी बांध कर कार्य किया। चिकित्सकों ने राजस्थान न्यू मेडिकल कॉलेज एसोसिएशन एवं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के तत्वावधान में जिला कलक्टर को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। जिसमें चिकित्सक से मारपीट करने के आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की।

ज्ञापन सौंपते हुए उन्होंने कहा कि West Bengal में एक जूनियर डॉक्टर पर मरीज के परिजनों ने जानलेवा हमला किया, जो गलत है। विगत कुछ वर्षों में देश भर में चिकित्सकों के खिलाफ कई बार हिंसक घटनाएं हुई है। राजकीय व निजी अस्पतालों में तोडफ़ोड़ एवं चिकित्सकों से मारपीट तक की जा रही है। जिससे चिकित्सकों व अस्पताल संचालकों में असुरक्षा का भाव पैदा हो रहा है। उन्होनें कलकत्ता मामले के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने एवं चिकित्सकों के विरुद्ध हिंसा पर राष्ट्रीय कानून बनाकर सुरक्षा का माहौल उपलब्ध कराने की मांग की।

ज्ञापन सौंपते समय राजस्थान न्यू मेडिकल कॉलेज एसोसिएशन के संरक्षक केसी अग्रवाल, अध्यक्ष डॉ. एमएल लोहिया, डॉ. आरके विश्नोई, डॉ. एच.एम. चौधरी, डॉ. प्रवीण गर्ग, डॉ. गौरव कटारिया, डॉ. बालगोपाल भाटी, डॉ. प्रभुदयाल, डॉ. ललित शर्मा, डॉ. एस.एन. स्वर्णकार, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. एम.एस. राजपुरोहित, सचिव नीरज लोढ़ा, डॉ. जे.पी. उदावत सहित कई चिकित्सक उपस्थित रहे।

जिले में भी हो चुकी है चिकित्सकों से अभद्रता
जिले के जैतारण में कुछ माह पूर्व एक महिला की करंट से मौत के बाद परिजनों ने सरकारी अस्पताल में हंगामा कर तोडफ़ोड़ की थी। इसी तरह सादड़ी में प्रसूता की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल में हंगामा किया तथा चिकित्सक से अभद्रता की। बांगड़ अस्पताल में भी कुछ माह पूर्व ट्रोमा वार्ड में रात के समय ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक के साथ मरीज के साथ आए परिजनों ने अभद्रता की। अस्पताल प्रशासन की ओर से रिपोर्ट तक दर्ज करवाई गई।

डॉक्टर प्रयास कर सकता है
मरीजों के परिजनों को समझना चाहिए कि चिकित्सक मरीज को बचाने का प्रयास कर सकते हैं, मौत का टाल नहीं सकते। ऐसा हो तो चिकित्सक होने के नाते मैं भी अपने माता-पिता को मरने नहीं देता, लेकिन ऐसा संभव नहीं है।
- डॉ. एम.एस. राजपुरोहित, अध्यक्ष इंडियन मेडिकल एसोसिएशन, पाली

कड़े शब्दों में निंदा करते है
चिकित्सक कोई भगवान नहीं है। वह अपनी ओर से पूरा प्रयास करता है। मरीज की जान बचाने के लिए उसके बाद भी मरीज इस तरह से चिकित्सक पर ही हमला करें यह अच्छा संदेश नहीं है। हम इसकी कड़ी निंदा करते हैं। - डॉ. प्रभुदयाल, सर्जन बांगड़ अस्पताल

परिजनों समझे ओर संयम रखें
मरीज की हालत गंभीर होने पर चिकित्सक एक कॉल पर अस्पताल पहुंचते है। अस्पताल में किसी तरह की अनहोनी होने पर मरीज के परिजनों को संयम बरतना चाहिए। उन्हें समझना चाहिए कि चिकित्सक ने प्रयास पूरे किए है। - डॉ. ललितकुमार शर्मा, अस्थमा रोग विशेषज्ञ, बांगड़ अस्पताल

इस तरह की घटना निंदनीय
चिकित्सकों के साथ मारपीट की घटना निंदनीय है। बंगाल में चिकित्सक के साथ हुई घटना को लेकर राजस्थान न्यू मेडिकल कॉलेज एसोसिएशन उनके साथ है। जरुरत पड़ी तो पाली में भी कार्य बहिष्कार करेंगे। - डॉ. आर.के. विश्नोई, बाल रोग विशेषज्ञ व सैकेट्री राजस्थान न्यू मेडिकल कॉलेज एसोसिएशन, पाली

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned