VIDEO : पाइप लाइन की मरम्मत के लिए 97 करोड़ के वर्क ऑर्डर तैयार, संभागीय आयुक्त ने की समीक्षा

-पेयजल की व्यवस्थाओं पर मंथन

By: Suresh Hemnani

Published: 07 Sep 2021, 08:58 PM IST

पाली। संभागीय आयुक्त राजेश शर्मा की अध्यक्षता में मंगलवार को पेयजल की व्यवस्थाओं को लेकर आयोजित बैठक में पानी का संकट दूर करने के माइक्रो प्लान पर विस्तृत चर्चा की गई। वाटर ट्रेन समेत अन्य पेयजल स्रोतों से पानी उपलब्ध कराने पर विचार किया गया।

संभागीय आयुक्त शर्मा ने कहा कि पेयजल संकट के इस दौर में सभी विभाग आपसी समन्वय के साथ कार्य करें, ताकि जिले के प्रत्येक नागरिक को पेयजल सुलभ करवाया जा सके। उन्होंने जिले के प्रमुख पेयजल स्रोत जवाई बांध समेत अन्य बांधों में उपलब्ध जल राशि की समीक्षा करते हुए वाटर ट्रेन और पाइपलाइन के माध्यम से पानी लाने की रणनीति पर चर्चा की।

जिला कलक्टर अंश दीप ने उन्हें जिले में पेयजल संकट से निपटने के लिए किए जा रहे इंतजामों की जानकारी दी। बैठक में संभागीय आयुक्त ने कहा कि जवाई बांध में उपलब्ध पानी से 30 दिन तक जिले की वर्तमान पेयजल मांग पूरी की जा सकती है। इसके बाद जोधपुर से वाटर ट्रेन के माध्यम से पानी पाली पहुंचाया जाएगा। जलदाय विभाग की ओर से रेल के जरिए पानी सप्लाई के लिए 62 करोड़ रुपए का प्रोजेक्ट बनाया गया है। उन्होंने जिले के शहरी क्षेत्रों समेत ग्रामीण इलाकों में पेयजलापूर्ति के समग्र प्लान पर चर्चा करते हुए जिला स्तरीय अधिकारियों से पूरी तैयारी के साथ आगामी दिनों में पेयजल मांग पूर्ण करने में जुट जाने के निर्देश दिए। संभागीय आयुक्त ने जोधपुर से वाटर ट्रेन के वेगन भरने तथा उन्हें पाली में खाली करने की व्यवस्थाओं का माइक्रो प्लान तैयार करने पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि जिला कलक्टर पेयजल की अधिक समस्या वाले क्षेत्रों में प्राथमिकता के आधार पर नए ट्यूबवेल खुदवाकर आमजन को राहत प्रदान करें।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर चन्द्रभानसिंह भाटी, जल संसाधन विभाग जोधपुर के मुख्य अभियंता निरज माथुर, अधीक्षण अभियंता जगदीश प्रसाद शर्मा, अधीक्षण अभियंता जल संसाधन विभाग मनीष परिहार, अधिशाषी अभियंता कानसिंह राणावत समेत जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग के अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।

कुड़ी-रोहट पाइप लाइन पर भी चर्चा
संभागीय आयुक्त से कुड़ी-रोहट पाइपलाइन की चर्चा करते जोधपुर मुख्य अभियंता पीएचइडी ने बताया कि पाइपलाइन को दुरूस्त करने के लिए 97 करोड़ के वर्क ऑर्डर तैयार कर लिए गए है। संभागीय आयुक्त ने पाली शहरी क्षेत्र में नए टयूबवेल खोदने की जरूरत बताई। बैठक में बताया गया कि फालना, सोजत, निमाज व जैतारण क्षेत्र में ट्यूबवेल के लिए प्रस्ताव तैयार किए जा चुके हैं। बैठक में रोहट क्षेत्र के गांवों की पेयजल मांग पूरी करने के लिए बांकली व खारड़ा बांध में उपलब्ध पानी, जाडन, सोजत क्षेत्र के लिए बाणियावास व जोगड़ावास बांध का पानी उपयोग में लेने पर चर्चा की गई। इस दौरान बताया गया कि रानी, बाली, फालना, सुमेरपुर व तखतगढ़ क्षेत्र के लिए स्थानीय स्रोतों में उपलब्ध पानी का अधिकाधिक उपयोग किया जाएगा।

हौदियों का किया निरीक्षण
संभागीय आयुक्त ने रेल्वे स्टेशन पहुंच जलदाय विभाग द्वारा बनाई गई पानी की हौदियों का निरीक्षण कर व्यवस्था देखी। उन्होंने वाटर ट्रेन के माध्यम से पानी पाली तक पहुंचने के बाद ट्रेन के वेगन्स को खाली करवाने तथा हाउसिंग बोर्ड स्थित पम्पिंग स्टेशन पहुंचकर जलापूर्ति करने पूरी प्रक्रिया का जायजा लिया। उन्होंने प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत पूर्व तैयारी शिविर का जायजा लिया।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned