scriptWildlife census will be done in the moonlit night of Buddha Purnima | बुद्धपूर्णिमा की धवल चांदनी रात में होगी वन्यजीव गणना | Patrika News

बुद्धपूर्णिमा की धवल चांदनी रात में होगी वन्यजीव गणना

- कुम्भलगढ़ अभयारण्य की पांच रेन्ज के चिन्हित
- सभी कृत्रिम प्राकृतिक वाटर हॉल्स पर रहेगी निगाह

पाली

Updated: May 13, 2022 11:26:28 pm

सादड़ी। मौसम ने साथ निभाया तो दो वर्ष बाद इस वर्ष बुद्ध पूर्णिमा (16/17 मई) की धवल चांदनी रात में कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य क्षेत्र में शाकाहारी, मांसाहारी, रेप्टाइल्स व पक्षी वर्ग प्रजाति वन्यजीवों की वाटर हॉल्स पद्धति से गणना होगी। जिसकी व्यवस्थाओं को लेकर वन विभाग तैयारियों में जुट गया है। वन विभाग के निर्देशानुसार प्रदेश के सभी अभयारण्य सहित कुम्भलगढ़ अभयारण्य वन क्षेत्र में निवासित वन्यजीवों की गणना बुद्ध पूर्णिमा 16 मई सुबह 8 बजे शुरू होगी। जो 17 मई सुबह 8 बजे सम्पन्न होगी। अभयारण्य की पांच रेंज क्रमश: देसूरी, सादडी, सादडी, बोखाडा व कुम्भलगढ़ रेंज में विभाग की ओर से चिन्हित करीब 200 कृत्रिम प्राकृतिक वाटरहॉल पर एक साथ होगी। गणना के दौरान वनकर्मी व गणक विभाग वाटरहॉल पर बनी बैठक, ओदिया व मचान पर पूरी रात बैठकर धवल चांदनी रात में इन जलस्रोत पर पानी पीने के लिए 24 घण्टे के दौरान पहुंचने वाले वन्यजीवों की गणना करेंगे। गणना के दौरान सभी के 5-6 वाटर हॉल पर ट्रेप कैमरा से भी निगाह रखी जाएगी।
बुद्धपूर्णिमा की धवल चांदनी रात में होगी वन्यजीव गणना
बुद्धपूर्णिमा की धवल चांदनी रात में होगी वन्यजीव गणना
दो साल बाद हो रही गणना

वर्ष 2020 में गणना पूर्व हुई बारिश से कई नए प्राकृतिक जलस्त्रोत बन गए। तो वर्ष 2021 में कोरोना के कारण वन्यजीव गणना स्थगित कर दी गई। इस वर्ष भी मौसम ने साथ निभाया या बुद्ध पूर्णिमा पूर्व बारिश नहीं हुई तो वन्यजीव प्रेमी व गणक गणना दौरान वन्यजीव अठखेलियों का लुत्फ उठा सकेंगे।
पांच रेंज में होगी गणना

पाली, राजसमंद व उदयपुर जिलों की सीमाओं में 506 वर्ग किलोमीटर अरावली की तलहटी में कुम्भलगढ़ अभयारण्य है। जिसे पांच रेंज क्रमश: झीलवाड़ा, सादड़ी, देसूरी, बोखाड़ा व कुम्भलगढ़ में बांट रखा है। कुम्भलगढ व सादड़ी में एसीएफ कार्यालय बने हैं। वनक्षेत्र में शाकाहारी, मांसाहारी, रेप्टाईल्स सहित 200 से अधिक प्रजाति के पक्षी हैं। अभयारण्य में पैंथर, सियार, भालू, लोमड़ी, सेही, जंगली सूअर, हाईना, चौङ्क्षसगा, चीतल, बिज्जू, बूट, साम्भर सहित कई प्रजातियों के वन्यजीव की बहुतायत हैं।
पानी से भरवाए वाटरहॉल

अभयारण्य की 5 रेंज में पानी भरवाने को लेकर विभाग से पिछले दिनों रेंजवार बजट जारी किया। इन दिनों वाटरहॉल्स की सफाई कर इनमें पानी भरवाया जा रहा है। ताकि यहां वन्यजीव की आवाजाही सुनिश्चित हो सके। प्रतिदिन यहां मॉनिटङ्क्षरग की जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

IPL 2022 LSG vs KKR : डिकॉक-राहुल के तूफान में उड़ा केकेआर, कोलकाता को रोमांचक मुकाबले में 2 रनों से हरायानोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाडिकॉक-राहुल ने IPL में रचा इतिहास, तोड़ डाला वार्नर और बेयरेस्टो का 4 साल पुराना रिकॉर्डDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाWatch: टेक्सास के स्कूल में भारतीय अमेरिकी छात्र का दबाया गला, VIDEO देख भड़की जनताHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.