प्रदेश की सरकारी स्कूलों में बनेंगे यूथ क्लब, निजी विद्यालयों की तरह करेंगे पांच सदन का गठन, जानिए पूरी खबर...

-पंच तत्वों से बदलेगा विद्यार्थियों का जीवन

Youth clubs to be built in government schools :

Suresh Hemnani

October, 2103:27 PM

Pali, Pali, Rajasthan, India

पाली। Youth clubs to be built in government schools : हिन्दू धर्म के अनुसार पृथ्वी, वायु, जल, आकाश व अग्नि से मिलकर शरीर का निर्माण हुआ है। इन पंच तत्वों से ही अब सरकारी स्कूलों [ Government school ] के बच्चों में जीवन जीने का कौशल, आत्म सम्मान, आत्मविश्वास बढ़ाया जाएगा। तनाव, भय व संकोच के साथ मनोविकारों को दूर भगाया जाएगा। इसके लिए हर स्कूल में यूथ व इको क्लब का गठन किया जाना है। जो प्रारम्भिक व माध्यमिक शिक्षा [ Elementary and secondary education ] में पांच सदन के रूप में होंगे। जिनके नाम होंगे पृथ्वी, जल, वायु, आकाश व अग्नि। ये सदन पर्यावरण व जैव विविधता के प्रति जागरूकता बढ़ाने के साथ ही पर्यावरण गतिविधियों के प्रोजेक्ट बनाने का कार्य भी इको के साथ मिलकर करेंगे।

इस तरह किया जाएगा गठन
यूथ व इको क्लब के प्रभारी संस्था प्रधान होंगे। इसमें कक्षा एक से आठ तक तथा कक्षा नौ से 12 तक अलग-अलग पांच-पांच सदन बनाए जाएंगे। संस्था प्रधान की ओर से हर सदन का प्रभार प्रत्येक शिक्षक को दिया जाएगा। शिक्षकों की संख्या हाउस से अधिक होने पर एक सदन के एक से अधिक प्रभारी भी बनाए जाएंगे।

नहीं बदलेगा विद्यार्थी का हाउस
विद्यार्थी के स्कूल में प्रवेश करने पर उसे जिस हाउस का सदस्य बनाए जाएगा। वह विद्यालय की अंतिम कक्षा तक उसी सदन का सदस्य रहेगा। हाउस के नाम के आधार पर भाषण, निबंध लेखन, पत्र लेखन, पोस्टर बनवाने, साहित्यिक व सांस्कृतिक गतिविधियों का आयोजन भी किया जाएगा।

मुख्य रूप से यह करवाएंगे कार्य
यूथ क्लब की ओर से खेल व शारीरिक गतिविधियों का आयोजन करवाया जाएगा। इसमें योग, ड्रामा, वाद-विवाद, संगीत कला, सांस्कृतिक गतिविधियां व रीडिंग गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। जबकि इको क्लब की ओर से शिक्षक, डॉक्टर, कोच व पर्यावरण की वार्ता करवाना, बच्चों के स्वास्थ्य की जानकारी रखना, स्वच्छता कार्यक्रम चलाना, बच्चों के नाखून, बाल आदि की प्रार्थना सभा में जांच करना आदि गतिविधियां रहेगी।

मिलेंगे 5 से 25 हजार रुपए
प्रारम्भिक शिक्षा के 52 हजार 539 विद्यालयों के लिए 4636.35 लाख व माध्यमिक शिक्षा के 14 हजार 102 विद्यालयों के लिए 3525.50 लाख रुपए का प्रावधान किया गया है। प्राथमिक विद्यालय को 5000, उच्च प्राथमिक को 15000 तथा माध्यमिक व उच्च माध्यमिक को 25000 रुपए दिए जाने का प्रावधान किया गया है।

रजिस्टर में भी होगा अंकित
उपस्थिति रजिस्टर में विद्यार्थी के नाम के आगे उसके सदन का नाम भी लिखा जाएगा। इसके साथ ही इसमें कनिष्ठ या वरिष्ठ जैसा कोई भेद नहीं होगा। विद्यार्थी सभी गतिविधियों में समान रूप से भाग लेंगे। स्कूलों में इन क्लबों के गठन के निर्देश दे दिए है। -महेन्द्र नानीवाल, सहायक अभियंता, पाली शिक्षा मण्डल

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned