scriptAmla product of Panna will be sold worldwide,Van Dhan Kendra Wildernes | हीरे के बाद अब पन्ना का नई पहचान बनेगा आंवला | Patrika News

हीरे के बाद अब पन्ना का नई पहचान बनेगा आंवला

अब दुनियाभर में बिकेगा पन्ना का आंवला उत्पाद, वनधन केंद्र व वाइल्डनेश फाउंडेशन के बीच हुआ करार

पन्ना

Published: June 17, 2022 07:06:25 pm

पन्ना. जिले में तैयार आंवला उत्पाद अब पूरी दुनियां में बिकेगा। इसके लिए वन-धन समिति दहलानताल व वाइल्डनेश इको फाउंडेशन के बीच दो साल के लिए करार हुआ है। फाउंडेशन इसकी पैकेजिंग विशेष बायोडिग्रेडेबल मैटेरियल से करेगा।

patrika_mp_panna.png

डीएफआ उत्तर वन मंडल गौरव शर्मा ने बताया, जीआई टैग के दौरान हुए रिसर्च में पता चला था कि पन्ना के आंवले में विटामिन-सी की मात्रा सर्वाधिक उपलब्ध है। इसके इसी महत्व को देखते हुए किसी अन्य कंपनी के नाम से बेचने की बजाय पन्ना आंवला के नाम से बेचने के प्रयास किए जा रहे थे। फाउंडेशन के डायरेक्टर ज्ञान दीक्षित व समिति अध्यक्ष लखन कोंदर ने अनुबंध पर हस्ताक्षर किए। डीएफओ ने बताया, जल्द ही पन्ना के आंवला को जीआई टैग मिल जाएगा। प्रक्रिया प्रचलन में है।

यह भी पढ़ें

अगर आपको भी मोमोज पसंद हैं तो खाने से पहले जान लें ये जरूरी बात, AIIMS ने जारी की एडवायजरी

सिर्फ पन्ना के नाम से ही बेचेंगे सभी उत्पाद
अनुबंध शर्तों के मुताबिक, इन उत्पादों को सिर्फ पन्ना ऑवला के नाम से बेचा जा सकेगा। समिति के सदस्य जितना आंवला उत्पादन कर फाउंडेशन को देंगे, उन्हें 10 फीसदी भुगतान एडवांश में करना होगा। सारा पेमेंट व संग्रहण वन धन केंद्र द्वारा होगा। मूल्य निर्धारण, पैकेजिंग व विक्री का कार्य वन धन केंद्र व वन विभाग की शार्तों के अधीन होगा।

हीरों की खदान के लिए दुनियाभर में पन्ना का नाम है। यहां कई लोग अपनी किस्मत आजमाने के लिए खदान लीज पर लेते हैं। कुछ वर्षों में युवाओं ने बड़ी संख्या में आवेदन किया था, जो पिछले कुछ वर्षों में सर्वाधिक था। हजारों करोड़ रुपए कीमत के यहां हीरों का भंडार है। हीरा खदान मिलने के बाद उथली हीरा खदानों तक ग्रेवल (चाल) मिलने तक खोदा जाता है। ग्रेवल को खदान से निकालकर सुरक्षित भंडारित करते हैं। यदि खदान किसी जल स्रोत के आसपास है, तो इसे धोया जा सकता है। यहां ग्रेवल को धोने का ज्यादातर काम बारिश के मौसम में होता है। जब धुलाई के लिए पानी आसानी से मिलता है। धुलाई के दौरान चाल की मिट्टी को पानी से धोकर बहा दिया जाता है। बचे हुए कंकड-पत्थरों को सूखने के लिए धूप में रख देते हैं। इन्हीं कंकड़ और पत्थरों के बीच हीरा होता है। इसमें से हीरा छांटा जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार कल शाम 4 बजे लेगें शपथ, पटना में होगा शपथ ग्रहण समारोहनीतीश ने सरकार बनाने का दावा पेश किया, कहा- हमें 164 विधायकों का समर्थनरवि शंकर प्रसाद ने नीतीश कुमार से पूछा बीजेपी के साथ क्यों आए थे? पीएम मोदी के नाम पर आपको जीत मिली, ये कैसा अपमान?'मुफ्त रेवड़ी' कल्चर मामले में सुप्रीम कोर्ट में आमने-सामने AAP और BJP, आम आदमी पार्टी ने कहा- PM मोदी ने 'दोस्तवाद' के लिए खाली किया देश का खजानाMaharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपBihar New Govt: नीतीश कुमार CM, डिप्टी CM व होम मिनिस्ट्री राजद के पाले में, कांग्रेस से स्पीकर बनाए जाने की चर्चाBihar Politics: 2024 में नीतीश कुमार नहीं होंगे विपक्ष के पीएम उम्मीदवार, कांग्रेस नेता ने ट्वीट कर खोला राजChandrapur: बाघ के आतंक से कांप उठा महाराष्ट्र का चंद्रपुर जिला, 23वां इंसान बना शिकार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.