अमृत के समान फलदायी है भागवत कथा

अमृत के समान फलदायी है भागवत कथा

Suresh Kumar Mishra | Publish: Feb, 09 2016 11:58:00 PM (IST) Panna, Madhya Pradesh, India

कथा में बह रही भक्ति रस की गंगा


पन्ना
।  नगर के जूही मोड़ में प्रतिदिन हो रही श्रीमद् भागवत कथा में कथा व्यास पंडित ओम प्रकाश मिश्रा द्वारा प्रतिदिन प्रवचन दिए जा रहे हैं। इन्हें सुनने के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु पंडाल में पहुंच रहे हैं।

जूही मोड़ स्थित आसमानी माता मंदिर परिसर में इन दिनों श्रीमद् भागवत कथा जारी रही है। कथा व्यास पंडित ओम प्रकाश मिश्रा प्रतिदिन विभिन्न संदर्भों पर प्रवचन दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि श्रीमद् भागवत कथा अपने आम में संपूर्ण ग्रंथ है। इसमें सभी ग्रंथों का सार छिपा हुआ है। यही कारण है कि श्रीमद् भागवत कथा अमृत के समान फलदायी है।

उन्होंने कहा कि कथा सुनने मात्र से मनुष्य को पापों से मुक्ति मिल जाती है। उन्होंने भगवान श्रीकृष्ण के जन्म, बाल लीलाएं, कृष्ण-सुदामा की मित्रता, श्रीकृष्ण और रुक्मिणी विवाह के प्रसंगों का अर्थ बड़े ही सरल शब्दों में लोगों को समझाया। महाराजश्री ने कहा कि भगवान श्री कृष्ण का जन्म दुष्टों के संघार और सत्य की पुनसर््थापना करने के लिए हुआ था। उन्होंने कंस का वध करके ऋषि-मुनियों की रक्षा की है। उन्होंने श्रीकृष्ण और सुदामा की मित्रता को आज भी प्रसांगिक और अनुकरणीय बताया।

11 को हवन व 12 को भंडारा
इससे पूर्व आसमानी माता मंदिर परिसर में श्रीमद् भागवत कथा का शुभारंभ 2 फरवरी को हुआ था। इस अवसर पर नगर में एक कलश यात्रा निकाली गई। कथा के समापन अवसर पर 11 फरवरी को हवन का कार्यक्रम होगा। इसके दूसरे दिन 12 फरवरी को कन्याभोज, ब्राह्मण भोज और भंडारे का आयोजन किया जाएगा। आयोजन समिति की ओर से कथा में अधिकाधिक लोगों से शामिल होन की अपील की गई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned