17 से शुरू होगा ऐतिहासिक जगन्नाथ स्वामी रथ यात्रा महोत्सव

17 से शुरू होगा ऐतिहासिक जगन्नाथ स्वामी रथ यात्रा महोत्सव
17 से शुरू होगा ऐतिहासिक जगन्नाथ स्वामी रथ यात्रा महोत्सव

Shashikant Mishra | Updated: 14 Jun 2019, 08:24:52 PM (IST) Panna, Panna, Madhya Pradesh, India

रथ यात्रा का मुख्य कार्यक्रम 4 जुलाई को
शांति एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में रथयात्रा महोत्सव मनाने की अपील

पन्ना. पन्ना का ऐतिहासिक रथ यात्रा महोत्सव इस साल 17 जून से भगवान की स्नान यात्रा के साथ शुरू हो रहा है। आयोजन को लेकर जिला प्रशासन द्वारा तैयारियां शुरू कर दी गई हंैं। इसको लेकर शुक्रवार को कलेक्टर कर्मवीर शर्मा की अध्यक्षता में रथयात्रा महोसत्व आयोजन संबंधी बैठक हुई। बैठक में कलेक्टर शर्मा ने कहा, यह पर्व परंपरा अनुसार शांति एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनाया जाएगा। महोत्सव से संबंधित गतिविधियों में जिला प्रशासन द्वारा नियमानुसार आवश्यक सहयोग दिया जाएगा।
बैठक में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं प्रभारी धर्मार्थ शाखा ने बताया, जिले की ऐतिहासिक रथ यात्रा महोत्सव की शुरूआत 17 जून को स्नान यात्रा के साथ होगी। रथयात्रा महोत्सव के अन्तर्गत पहले दिन 17 जून ज्येष्ट शुल्क पक्ष पूर्णमासी दिन शुक्रवार को जगदीश स्वामी मंदिर पन्ना में सुबह 9.30 बजे से भगवान की स्नान यात्रा का कार्यक्रम आयोजित होगा। स्नान यात्रा के बाद भगवान जगदीश स्वामी 15 दिन के लिए बीमार हो जाएंगे एवं 15 दिन के बाद आषाढ कृष्ण अमावस्या दिन गुरुवार 02 जुलाई को पथ प्रसाद वितरण कार्यक्रम होगा। अगले दिन 3 जुलाई को रात्रि 8 बजे धूप कपूर की झांकी के दर्शन होंगे। उन्होंने बताया कि रथयात्रा का शुभारंभ 4 जुलाई को शाम 6.30 बजे जगदीश स्वामी मंदिर बडर दीवाला से होगा। भगवान जगदीश स्वामी बडे भाई बलभद्र एवं सुभद्रा के साथ रथों में सवार होकर निकलेंगे। भगवान की बारात का पहला पडाव लखूरन में होगा। भगवान की बारात 5 जुलाई को शाम 5 बजे लखूरन से रवाना होकर चौपरन पहुंचेगी और विश्राम होगा। अगले दिन 6 जुलाई को चौपरा से भगवान की बारात रथयात्रा में चलकर जनकपुर पहुंचेगी जहां पर शाम 7.30 बजे टीका होगा तथा पूजन आरती एवं स्वागत तथा धार्मिक कार्यक्रम होगा।


जनकपुर में लगेगा साप्ताहिक मेला
उभगवान जनकपुर मंदिर में 7 जुलाई को सुबह 9 बजे प्रवेश करेंगे। जहां पर परम्परागत तरीके से विभिन्न कार्यक्रम सम्पन्न होंगे। जनकपुर मंदिर में 8 जुलाई को कथा पूजन, हवन एवं भण्डारे का कार्यक्रम सम्पन्न होंगे। 9 जुलाई को पन्ना स्थित जगदीश स्वामी मंदिर से लक्ष्मीजी की सवारी शाम को निकलेगी और जनकपुर पहुंचेगी तथा जनकपुर से वापस होगी। 10 जुलाई को जनकपुर से रथयात्रा की वापसी शुरू होगी तथा चौपरा में रुकेगी। 11 जुलाई को रथयात्रा वापसी चौपरा से लखूरन तक होगी। 12 जुलाई को रथयात्रा वापसी लखूरन से जगदीश स्वामी मंदिर बडा दिवाला तक के लिए हो जाएगी। मंदिर के बाहर लक्ष्मी जू का संवाद एवं मंदिर के बाहर रात्रि विश्राम होगा। 13 जुलाई को सुबह 8 बजे भगवान जगदीश स्वामी मंदिर में प्रवेश करेंगे एवं सात मूर्ति के दर्शन इस दिन होंगे और रथ यात्रा कार्यक्रम का समापन हो जाएगा। इस अवसर पर भगवान के स्वागत में यहां सात जुलाई से एक सप्ताह चक चलने वाला मेला भी शुरू हो जाएगा। यह मेला आसपास के लोगों के लिए आकर्षण का कोंद्र होता है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned