पन्ना पहुंची भगवान परशुराम यात्रा

पन्ना पहुंची भगवान परशुराम यात्रा

Bajrangi Rathore | Publish: Oct, 14 2018 01:35:45 AM (IST) Panna, Madhya Pradesh, India

पन्ना पहुंची भगवान परशुराम यात्रा

पन्ना। राजस्थान के झुंझुनू से शुरू भगवान परशुराम की यात्रा 13 अक्टूबर को पन्ना पहुंची। यात्रा का का जगह-जगह पुष्पवर्षा कर जोरदार स्वागत किया गया। इस अवसर पर भगवान परशुराम की विशेष रूप से पूजा-अर्चना की गई। यात्रा युगल पीठाधीश्वर आचार्य राजेश्वर महाराज मंदिर युगल किशोरी लालसोट जिला दौसा (राजस्थान) से 5 मार्च २2017 को शुरू हुई थी।

13 अक्टूबर को पन्ना पहुंची। संकल्प गार्डन में भगवान परशुराम के चित्र पर रोली माला आदि से पूजन किया गया। कार्यक्रम स्थल में उपस्थित विप्र समूह के बीच में यात्रा का उद्देश्य तथा भगवान परशुराम के जीवन चरित्र व उपदेशों की जानकारी दी गई।

आचार्यश्री ने बताया, देशभर में बसे विप्र बंधुओं को आपस में संपर्क में लाकर एकजुट करना तथा ब्राह्मण बंधू हेल्पलाइन की स्थापना करना ही यात्रा का उद्देश्य है। भारत के 687 जिलों, 4000 तहसीलों, 60000 गांवों में भगवान परशुराम के जीवन चरित्र और उनके द्वारा किए गए जनकल्याणकारी कार्यों की जानकारी दी गई है। यात्रा भारत में 1 लाख ग्यारह हजार किमी की दूरी तय करेगी।

यात्रा का समापन कुरुक्षेत्र हरियाणा में होगा। अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा पन्ना के जिलाध्यक्ष पडि़त रामगोपाल तिवारी ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। संचालन मुरारी लाल थापक ने किया। कार्यक्रम में दिनेश कुमार पाठक, पुरुषोत्तम दुबे, कैलाश मिश्रा, महेश भार्गव, वीरेन्द्र रिछारिया, जन्मेजय अरजरिया, भगवत प्रसाद नायक, अरुण शुक्ला, प्रमोद पाठक, देेवी दीक्षित, महेन्द्र तिवारी, विनोद मिश्रा, अशोक तिवारी आदि मौजूद रहे।

यात्रा पन्ना से अमानगंज के लिए प्रस्थान हुई रात्रि विश्राम पवई में होगा। 14 अक्टूबर को शाहनगर होते हुए कटनी जिले में प्रवेश करेगी।

गांवों की सुरक्षा में समितियों का महत्वपूर्ण योगदान

गुनौर। थाना परिसर में ग्राम रक्षा समिति सदस्यों की बैठक आयोजित की गई। जिसमें पुलिस अधिकारियों ने उन्हें उनके अधिकारों और कर्तव्यों की जानकारी दी। बैठक में एसडीओपी धर्मेश दीक्षित, डीएसपी प्रशिक्षु नम्रता सोंधिया, थाना प्रभारी दिलीप पांडे ने रक्षा समितियों के सदस्सों को संबोधित किया।

कार्यक्रम में अधिकारियों द्वारा ग्राम रक्षा समिति के सदस्य सहित उनकी कार्यकर्ताओं को मंच पर बुलाकर समस्याएं सुनी गई। इस दौरान थाना प्रभारी ने कहा, हमारी प्राथमिकता यह है कि ग्राम रक्षा समिति के सदस्य सक्रिय हों और अपनी-अपनी ग्राम पंचायतों की रक्षा के लिए पुलिस विभाग की ओर से समय-समय पर दिए जाने वाले दिशा-निर्देशों के तहत कार्य करें।

समिति के सदस्यों का यह दायित्व है कि हम किसी भी प्रकार की संगेय अपराध की सूचना पुलिस को दें। इसके लिए ग्राम रक्षा समिति को आवश्यक है कि वह डायरी बना ले। जिसमें बीट प्रभारी, सब इंस्पेक्टर, थाना प्रभारी, एसडीओपी सहित पुलिस कंट्रोल रूम का नंबर उसके पास होना चाहिए। पुलिस अधिकारियों ने कहा, झूठी शिकायत ना करें। एसडीओपी ने ग्राम रक्षा समिति के सदस्यों को जरूरी टिप्स दिए।

डीएसपी ने भी रक्षा समिति के सदस्यों को गांव की रक्षा के लिए उचित समझाइश दी। कार्यक्रम में ग्राम रक्षा समिति की सदस्य रेहाना खान ने कहा कि हम किसी को फर्जी तरीके से प्रकरण में फंसाने की धमकी नहीं दें। महिलाओं को आगे आकर काम करना चाहिए, ताकि ग्राम रक्षा का कार्य कारगर साबित हो।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned