एक माह बाद भी लापता बच्ची का नहीं सुराग

एक माह बाद भी लापता बच्ची का नहीं सुराग
एक माह बाद भी लापता बच्ची का नहीं सुराग

Shashikant Mishra | Updated: 11 Jul 2019, 12:59:51 PM (IST) Panna, Panna, Madhya Pradesh, India

एक सैकड़ा से अधिक लोगों से हुई पूछताछ, चार लोगों को पुलिस ने उठाया भी
डीआईजी और एसपी भी कर चुके हैं पूछताछ

शाहनगर. जिले के शाहनर थाना क्षेत्र के ग्राम ताला से ९ जून को लापता हुई चार साल की बच्ची किस हालत में तमाम जांचों के बाद भी अभी तक तय नहीं हो पाया है। एक माह बाद भी मामला पूछताछ में ही अटका हुआ है। डीआईजी से लेकर एसडीओपी तक बच्ची के परिजन और ताला गांव के लोंगों से कई दौर की बातचीत कर चुके हैं। पुलिस ग्रामीणों के साथ कई बार जंगल की सर्चिंग भी कर चुकी है। इस दौरान रुपए की मांग को लेकर अपहरण जैसी बात भी सामने नहीं आई है। इससे साथ ही बच्ची के परिजनों द्वारा पूछताछ में पुलिस का सहयोग नहीं करने और तांत्रिक द्वारा गुमराह करने के कारण पुलिस को लापता बच्ची का पता लगा पाने में काफी परेशानी हो रही है।
गौरतलब है कि ९ जून को ग्राम ताला से चार साल की बच्ची उपासना घर के बाहर खेलने के दौरान लापता होने की बात पूर्व में सामने आई थी। पूर्व में शाहनगर और रैपुरा थाने की पुलिस मिलकर कई दिनों तक बच्ची की खेाज करती रही, पता नहीं चलने पर एसडीओपी के बाद एसपी ने भी गांव पहुंचकर लोगों से पूछताछ की। पुलिस डॉग और एफएसएल टीम ने भी खोजबीन की। डीआईजी छतरपुर रेंज अनिल महेश्वरी भी मामले में पूछताछ के लिए ताला गांव पहुंचे थे।

उन्होंने बच्ची के परिजनों ओर गांव के लोगों से पूछताछ की थी। मामले में पूछताछ के लिए पुलिस ने बच्ची के माता-पिता, मौसी और एक तांत्रिक को थाने भी बुलाया था। पुलिस द्वारा इनसे कई दौर की बातचीत की गई। पुलिस के अनुसार पूछताछ के दौरान तांत्रिक द्वारा बच्ची के हत्या करने की बात कबूल की गई लेकिन वह शव बरामद नहीं करा सका। जांच से पुलिस को जांच की दिशा भटकराने के लिए उसके द्वारा गुमराह करने की बात सामने आई। फिलहाल बच्ची की मौसी से पूछताछ में पुलिस को कुछ नई बातें पता चली हैं।इनके आधार पर फिर जांच और पूछताछ की जा रही है। बच्ची के बारे में कब तक सही जानकारी पता चल पाएगी यह पुलिस भी नहीं बता पा रही है। आखिरकार एक माह की मेहनत का नतीजा अब तक कुछ खास नहीं रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned