पर्यटकों के लिए आज से खुलेगा पन्ना टाइगर रिजर्व, बाघों के होंगे दीदार

पन्ना के पर्यटन कारोबार में बाघों के कुनबे में वृद्धि से बूम की उम्मीद, बाघों की अच्छी साइटिंग के लिए है ख्यात

 

पन्ना. पर्यटकों के लिए पन्ना टाइगर रिजर्व बुधवार १६ अक्टूबर से खोला जाएगा। पहले दिन बाघों का दीदार करने मडला और हिनौता गेट से पर्यटन के लिए कई दिन पहले से ऑनलाइन बुकिंग चालू है। बफर जोन अकोला में भी एक प्रवेश द्वार है, जहां से अधिकतम 20 वाहनों को प्रतिदिन प्रवेश मिल सकता है। इस साल पार्क खुलने के ठीक पहले टाइगर रिजर्व में दो बाघिनों ने नन्हें शावकों को जन्म दिया है। इससे पूरे पार्क में खुशी का माहौल है। टूरिस्ट सीजन को लेकर यहां के अधिकांश होटल और लॉज बुक हो गए हैं। एक दिन में पन्ना टाइगर रिजर्व में अधिकतम 85 वाहनों की प्रवेश क्षमता है।

स्वागत को आतुर प्रबंधन
पन्ना टाइगर रिजर्व पर्यटकों के स्वागत के लिए तैयार हो गया है। सुबह पार्क के फील्ड डायरेक्टर सहित अन्य अधिकारी फीता काटकर पर्यटन का शुभारंभ करेंगे। इसके लिए पार्क में तैयारियों का दौर चल रहा है। पार्क के सभी गाइडोंं को पूर्व में ही एक सप्ताह का विशेष प्रशिक्षण दिया जा चुका है। उनके आईडी कार्ड भी रिन्यू करा दिए गए हैं। वहनों के पंजीयन का काम पूरा कर लिया गया है। अब सभी को इंतजार है तो बुधवार की सुबह का, जब पन्ना टाइगर रिजर्व में पर्यटन की शुरुआत होगी।


मडला, हरसा और हिनौता सभी फुल, अब विंडो का सहारा
पन्ना टाइगर रिजर्व के पर्यटकों के खुलने के पहले दिन मडला, हरसा और हिनौता तीनों गेट की ऑनलाइन बुकिंग फुल हो चुकी है। यहां सिंगल और फुल व्हीकल कोईभी उपलब्ध नहीं है। ऐसे हालात में जिन लोगों ने ऑनलाइन टिकट पूर्व में बुक नहीं कराई थी उनके लिए अब पार्क में टिकट विंडो का ही सहारा है।

पन्ना में 54 हो गए बाघ

पन्ना टाइगर रिजर्वसे में बीते दो-तीन सालों से बाघों का कुनबा लगातार बढ़ता जा रहा है। इससे हालात यह है कि टाइगर रिजर्व का कोर जोन बाघों के लिए कम पडऩे लगा है अब कोर की तरह ही बफर जोन में बाघों की साइटिग होने गली है। दो दिन पूर्व ही अकोला बफर क्षेत्र में नाइट सफारी में घूमने पहुचे पर्यटकों को दो बाघ देखने को मिले थे। बांधवगढ़ और पेंच में बाघ देखने से मायूस रहे पर्यटकों को यहां एक-दो दिन में ही बड़ी आसानी से बाघ के दर्शन हो जाते हैं।

पन्ना नेशनल पार्क panna madhya pradesh
IMAGE CREDIT: patrika

20 फीसदी कोर में ही पर्यटन की सुविधा
पन्ना टाइगर रिजर्व का कोर क्षेत्र 543 वर्ग किमी है। जिसमें 40 से 50 किमी. क्षेत्र में पर्यटकों के लिए प्रवेश की अनुमति है। पर्यटन वर्ष 2018 -19 हेतु कोर क्षेत्र में मडला से 60 और हिनौता से 25 वाहनों सहित कुल 85 वाहनों को एक दिन में प्रवेश की अनुमति है। प्रवेश द्वार मडला से सुबह 35 और शाम को 25 वाहन तथा हिनौता प्रवेश द्वार से सुबह 15 वाहन एवं शाम को 10 वाहनों के प्रवेश की अनुमति प्रदान की गई। इसके साथ ही बफर जोन अकोला से प्रतिदिन २० पर्यटक वाहन भ्रमण हेतु प्रवेश कर सकेंगे। जिसमें सुबह 10 वाहन तथा शाम को 10 वाहन निर्धारित किए गए हैं।

पन्ना नेशनल पार्क panna madhya pradesh
IMAGE CREDIT: patrika
Pushpendra pandey
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned