शादी से चार दिन पहले न्यायिक मजिस्ट्रेट पर रेप का केस दर्ज

शादी से चार दिन पहले न्यायिक मजिस्ट्रेट पर रेप का केस दर्ज

Rajiv Jain | Publish: Jun, 14 2018 02:20:28 PM (IST) | Updated: Jun, 14 2018 10:27:27 PM (IST) Panna, Madhya Pradesh, India

18 जून को छतरपुर में होने वाली थी आरोपी जज की शादी, महिला पटवारी ने की थी शिकायत, शादी का झांसा देकर तीन साल से यौन शोषण कर रहे थे मजिस्ट्रेट

पन्ना. मध्यप्रदेश के पन्ना जिले के अजयगढ़ में शादी से चार दिन पहले न्यायिक मजिस्ट्रेट पर रेप का मामला दर्ज हुआ है। रीवा जिले में पदस्थ एक महिला पटवारी की शिकायत पर उन पर अजयगढ़ में बलात्कार का मामला दर्ज किया गया है। युवती का आरोप है कि अजयगढ़ में पदस्थ न्यायिक मजिस्ट्रेट मनोज सोनी ने शादी का झांसा देकर उनसे तीन साल तक यौन शोषण किया। बाद में दहेज में 50 लाख रुपए, 30 तोला सोना, कार और शादी के खर्च की मांग की। इतना नहीं दे पाने पर आरोपी जज की शादी मोहबा (यूपी) निवासी एक अन्य युवती से शादी तय हो गई। 18 जून को छतरपुर के एक होटल में उसका विवाह होना है। इधर, पुलिस में एफआइआर से एक दिन पहले आरोपी का परिवार छतरपुर स्थित घर में बाहर से ताला लगाकर अंदर बैठा है। आरोपी के पिता ने अपने बेटे को झूठा फंसाने का आरोप लगाया है।

अजयगढ़ पुलिस के अनुसार रीवा जिले की रहने वाली एक महिला पटवारी ने अजयगढ़ में पदस्थ न्यायिक मजिस्ट्रेट मनोज सोनी पर शादी का झांसा देकर तीन साल तक यौन शोषण करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने युवती की शिकायत पर बलात्कार तथा दहेज की धाराओं के तहत अजयगढ़ थाने में मामला दर्ज कर लिया है। युवती ने शिकायत में बताया है कि साल 2015 में परिवार वाले छतरपुर निवासी मनोज सोनी के घर रिश्ता लेकर गए थे। इसके बाद मोबाइल नंबर का आदान प्रदान हुआ और इस तरह बात होने लगी। इसके बाद मनोज सोनी रीवा कलक्ट्रेट में देखने आया और उन्हें पसंद किया। शादी की बात आगे बढ़ाने को कहा- जिसके बाद उन्होंने मुझे पन्ना स्थित श्री जुगल किशोर मंदिर में बुलाया। यहां मिलने पर उन्होंने कहा कि मेरे लिए और भी रिश्ते आ रहे हैं, जो मुझे 50 लाख रुपए दहेज़ में दे रहे हैं। इसलिए तुम अपने पिताजी से बात करो। इसके बाद मनोज के बुलाने पर अजयगढ़ पहुंची पीडि़ता को शादी का भरोसा दिलाकर मर्जी के विरुद्ध सम्बन्ध बनाए। युवती ने शिकायत में बताया कि इसके बाद शादी का पूर्ण भरोसा दिलाकर बार-बार शारीरिक शोषण किया। इसके बाद किसी और से शादी करने का शगुन ले लिया। सोनी की मोहबा यूपी निवासी एक अन्य युवती से शादी तय हो गई थी, जो 18 जून को छतरपुर की एक होटल में होनी थी। फिलहाल अजयगढ़ पुलिस ने युवती की शिकायत पर बलात्कार तथा दहेज की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है।

पीडि़ता सुरक्षा मांगेगी तो देंगे
पीडि़ता ने अपनी जान को खतरा बताया है। इस पर पन्ना एसपी रियाज इकबाल ने कहा कि यदि पीडि़ता लिखित आवेदन देकर सुरक्षा मांगेगी तो उसे नियमानुसार सुरक्षा दी जाएगी।

आरोपी के घर ताला, परिजन अंदर
आरोपी मजिस्ट्रेट के छतरपुर की स्टेट बैंक के पास स्थित घर में बुधवार से ही ताला लगा है, लेकिन अंदर उसके परिजन मौजूद हैं। गुरुवार शाम पत्रिका ने दरवाजा खुलवाया तो आरोपी के पिता बाहर निकले। उन्होंने पीडि़ता के चरित्र पर सवाल उठाए और कहा, उसने मेरे बेटे को फंसाया है। हम कोर्ट जाएंगे, खुद को निर्दोष साबित करेंगे। आरोपी के दो भाइयों धर्मेंद्र और उपेंद्र ने कहा, जब लडक़ी को भैया की शादी का पता चला तो ब्लैकमेलिंग करने लगी।

बार एसोसिएशन से मांगी थी मदद
मप्र हाईकोर्ट बार एसोसिएशन अध्यक्ष आदर्शमुनि त्रिवेदी ने बताया कि पीडि़ता ने अपने उच्चाधिकारियों और पुलिस से कई बार शिकायत की। कोई कार्रवाई नहीं होने पर उसने 7 जून को उसने मप्र हाईकोर्ट बार एसोसिएशन को आवेदन देकर सहायता मांगी। इस पर एसोसिएशन के शिष्टमंडल ने प्रभारी रजिस्ट्रार जनरल पीसी गुप्ता को ज्ञापन सौंपकर सिविल जज को हटाने की मांग की थी।

Rape Case ajaygarh
IMAGE CREDIT: patrika

रजिस्ट्रार जनरल से शिकायत के बाद ही आगे की कार्रवाई
पीडि़ता ने एक शिकायत दी थी। उसके द्वारा दिए गए साक्ष्यों के आधार पर एफआइआर दर्ज कर ली गई है। मामले की विस्तृत जांच की जाएगी। रजिस्ट्रार जनरल से शिकायत मिलने के बाद ही आगे की कार्रवाई होगी।
रियाज इकबाल, एसपी, पन्ना

 

Ad Block is Banned