scriptSkating changed the fate of Janwar village of Panna | पासपोर्ट वाला गांव: चूल्हा चौका छोड़ हाथ में पासपोर्ट लिए विदेश जाने का ख्वाब | Patrika News

पासपोर्ट वाला गांव: चूल्हा चौका छोड़ हाथ में पासपोर्ट लिए विदेश जाने का ख्वाब

पन्ना जिले के आदिवासी गांव जनवार की खेल ने बदली तकदीर

पन्ना

Updated: June 24, 2022 09:38:46 pm

पुष्पेंद्र पांडेय

सतना. देश बदल रहा...सोच और सपने भी बदल रहे। इसकी झलक देखनी हो तो पन्ना जिले के आदिवासी गांव जनवार की यह तस्वीर आपके सामने है। चूल्हा-चौका करने वाली आदिवासी महिलाएं अब हाथ में पासपोर्ट लिए विदेश जाने का ख्वाब संजोए हैं। यह सब संभव हुआ है एक विदेशी महिला की जिद से। जनवार गांव पहुंची जर्मन महिला उलरिके रेनहार्ट ने विदेशी खेल स्केटिंग के सहारे इन आदिवासियों की तकदीर ही बदल दी।
Mothers of Player aasha
Mothers of Player aasha
पासपोर्ट के लिए कई दस्तावेज जुटा रहे
देश-विदेश में स्केटिंग विलेज के नाम से पहचान बना चुका पन्ना जिले का यह आदिवासी गांव अब पासपोर्ट वाले गांव की राह पर है। इस गांव की ज्यादातर महिलाएं, बच्चे, पुरुष पासपोर्ट के लिए आवेदन कर चुके हैं। अब तक नौ लोगों के पासपोर्ट बन भी चुके हैं। इनमें छह स्केट बोडर्स और तीन महिलाएं हैं। करीब 20 लोग आवेदन करने के लिए अपने दस्तावेज जुटा रहे हैं। खास बात यह है कि पासपोर्ट के लिए पुलिस वेरिफिकेशन रिपोर्ट पेश करने के मामले में जिला प्रदेश में तीसरे नंबर पर है।
Panna Skating
IMAGE CREDIT: patrika
आशा ने जताई उम्मीद की किरण
आदिवासी महिला कमलाबाई का हाल ही में पासपोर्ट बनकर आया है। पांच साल पहले के दिनों को याद करते हुए बताती हैं कि गरीबी का दंश ऐसा था कि परिवार पालने के चक्कर में कब सुबह से शाम हो जाती थी, पता ही नहीं चलता था। चार-पांच साल पहले विदेशी महिला उलरिके रेनहार्ट पहुंचीं और गांव में स्केट बोर्ड पार्क बनाने की बात कही। तब हम लोगों को लगा कि वो गरीबी का मजाक उड़ा रहीं हैं। लेकिन, उनकी जिद के चलते यहां के एक दर्जन से भी अधिक बच्चे नेशनल चैम्पियन हैं। मेरी बिटिया आशा और गांव का लड़का अरुण चीन के नानजिंग और इंग्लैंड के ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी तक जा पहुंचे। नानजिंग में 2018 में आयोजित एशियाई स्केटबोर्डिंग चैम्पियनशिप में दोनों सेमीफाइनल राउंड तक खेले। आशा ने अंग्रेजी सीखने के लिए ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में भी प्रवेश लिया। आशा हमारे लिए उम्मीद की किरण बनी। उसी को देख मेरे सहित गांव की कई महिलाओं ने भी स्केटिंग सीखना शुरू कर दिया है। विदेश जाने की ललक में सभी पासपोर्ट भी बनवा रही हैं।
Mothers of Player aasha
IMAGE CREDIT: patrika
अब जर्मनी का बीजा लेने की तैयारी
जनवार गांव में नौ पासपोर्ट बने हैं। छह स्केट बोर्डर्स के और तीन महिलाओं के। सचिन तेंदुलकर के साथ विज्ञापन में दिखने वाली आशा का सबसे पहले पासपोर्ट बना। इसके बाद अरुण, रामकेश, दीपा यादव, प्रियंका यादव और अभिलाषा यादव के पासपोर्ट बने। ये तीनों 40 दिन का यूरोप टूर कर चुके हैं। आशा की मां कमलाबाई, अरुण की मां जलसा बाई और रामकेश की मां शियाबाई के पास भी पासपोर्ट हैं। इन तीनों महिलाओं ने जर्मनी के बीजा के लिए आवेदन करने की तैयारी शुरू कर दी है। वहीं अनिल के पासपोर्ट का आवेदन चार बार निरस्त हो चुका है। वह पांचवीं बार आवेदन करने की तैयारी में है।
खास खास
1100 की आबादी जानवर गांव की
09 पासपोर्ट बन चुके
20 लोग आवेदन करने की तैयारी में
50 से ज्यादा आवेदन हो चुके
---------------
जिले में पासपोर्ट के आवेदन
वर्ष आवेदन की संख्या
2017-4648
2018-6933
2019-5420
2020-2036
2021-2696
2022-1286

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार कल 2 बजे लेंगे शपथ, मंत्रिमंडल में बन सकते हैं 35 मंत्रीनीतीश ने सरकार बनाने का दावा पेश किया, कहा- हमें 164 विधायकों का समर्थनरवि शंकर प्रसाद ने नीतीश कुमार से पूछा बीजेपी के साथ क्यों आए थे? पीएम मोदी के नाम पर आपको जीत मिली, ये कैसा अपमान?पश्चिम बंगाल के बीरभूम में दर्दनाक हादसा, ऑटोरिक्शा और बस की टक्कर में 9 लोगों की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख'मुफ्त रेवड़ी' कल्चर मामले में सुप्रीम कोर्ट में आमने-सामने AAP और BJP, आम आदमी पार्टी ने कहा- PM मोदी ने 'दोस्तवाद' के लिए खाली किया देश का खजाना23 बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन सेरेना विलियम्स ने अचानक किया रिटायरमेंट का ऐलान, फैंस हुए भावुकMaharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपBihar New Govt: नीतीश कुमार CM, डिप्टी CM व होम मिनिस्ट्री राजद के पाले में, कांग्रेस से स्पीकर बनाए जाने की चर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.