स्टॉप डैम की सिल्ट हटाई और पत्थर-मिट्टी से पूरा कटाव

स्टॉप डैम की सिल्ट हटाई और पत्थर-मिट्टी से पूरा कटाव
स्टॉप डैम की सिल्ट हटाई और पत्थर-मिट्टी से पूरा कटाव

Shashikant Mishra | Updated: 04 Jun 2019, 09:40:07 PM (IST) Panna, Panna, Madhya Pradesh, India

ग्राम पलथरा के स्टॉप डैम में गांव और समर्थन संस्था के लोगों ने किया श्रमदान

पन्ना. आगामी मानसून सीजन में बारिश होने का इंतजार कर रहे ग्राम पलथरा के लोगों ने समर्थन समाज सेवी संस्था के लोगों के साथ मिलकर घंटों तक श्रमदान किया। संस्था के क्लेड परियोजन के तहत उक्त टूटे हुए स्टॉप डैम का बीते साल की जीर्णोद्धार किया गया था। इसका लाभ भी गांव के लोगों को मिला था। इस साल इसमें जमी सिल्ट की परत हो हटाने के साथ ही बीते साल हुए कटाव को रोकने के लिए भी प्रयास किया गया। इसमें गांव के करीब एक सैकड़ा लोगों ने तीन से चार घंटे तक श्रमदान किया।
समर्थन संस्था के जिला समन्वयक राहुल निगम ने बताया, ग्राम पलथरा के बरसाती नाले पर वर्षों पहले बना स्टॅाप डैम पूर्व में टूट गया था। एक साल पहले ग्रामीणों ने सामाजिक संस्था समर्थन की क्लेड परियोजना के सहयोग से इस संरचना का जीर्णोद्धार किया था। जिसका लोगों को फायदा भी हुआ था। पानी रुकने से आस पास के किसानों की फसलों को सिंचाई के लिए पानी मिल गया था। साथ ही नजदीक के अन्य जल स्रोतों का भी जल स्तर सुधरा था। इसी को देखते हुए बीते दिनों संस्था के कार्यकर्ताओं द्वारा गांव के लोगों के साथ एक बैठक कर सुधारे गए तालाब व स्टॅाप डैम की वर्तमान स्थिति पर चर्चा की गई। ग्रामीणों ने बताया, बीते साल स्टॅाप डैम का एक किनारे कटाव होने लगा था। इसके साथ ही स्टॉप के तली में सिल्ट भी जमी हुई है। बैठक में ही ४ जून को श्रमदान करके इसकी स्थिति सुधारने का निर्णय लिया गया। कटाव रोकने के लिए मिट्टी व पत्थर से भराव करने की बात कही गई।


भीषण गर्मी में भी घंटों बहाया पसीना
श्रमदान कार्यक्रम की कार्ययोजना पूर्व से ही तैयार होने के बाद सुबह से ही समर्थन संस्था के करीब आधा दर्जन लोग और गांव के करीब आधा सैकड़ा लोग स्टॉप डैम में पहुंच गए थे। संस्था के लोगों और ग्रामीणों ने मिलकर तीन से चार घंटे तक श्रमदान किया। इस दौरान स्टॉप डैम की तली में जमी शिल्ट को हटाया गया। साथ ही जिस किनारे से मिट्टी का कटाव बीते साल होने लगा था वहां पर बोल्डर और मिट्टी का पुराव किया गया। इससे बारिश के दौरान मिट्टी का कटाव रुक जाएगा। अब ग्रामीणों को इंतजार है अच्छी वर्षा का। जिससे यह छोटी-छोटी संरचनाएं पानी से लबालब हों और किसान अपने खेतों से खुशहाली की फसल उगा सके। समर्थन संस्था के द्वारा क्लेड परियोजना अन्तर्गत पिछले तीन वर्षों से ग्राम में सामुदायिक सहभागिता से जल प्रबंधन के कार्य किए जा रहे हैं। सूखे के हालात में भी जिंदगी जीने की ग्रामीणों की जिद अब पानी बचाकर उसे खुशहाल बनाने की दिशा में चल पड़ी है। श्रमदान करने वालों में गांव के शिवसिंह, गुलाब सिंह, बखत सिंह,जनक सिंह, जलाल सिंह, प्रताप सिंह रूप सिंह जय सिंह सरपंच चरण सिंह, छोटी बाई, गेंदारानी व फूलबाई के साथ समर्थन संस्था के राहुल निगम, प्रदीप पिडिहा, मंजूर वानी, धर्मराज, कपूर सिंह, चालीराजा, प्रीती की अहम भूमिका रही।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned