पन्ना के ककरहटी में डिग्री कॉलेज स्थापित करने के लिए ग्रामीणों ने उठाई मांग, मांग पर नहीं दिया गया ध्यान तो होगा आंदोलन

मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा

पन्ना. ककरहटी सहित आसपास के गांवों से आए लोगों ने सोमवार को समाजसेवी कैलाशनाथ त्रिपाठी के नेतृत्व में अपर कलेक्टर जेपी धुर्वे को ज्ञापन देकर ककरहटी में डिग्री कॉलेज स्थापित करने की मांग की है। उन्होंने यह ज्ञापन मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम सौंपा है। इसके माध्यम से बताया कि कि बहुत पहले ककरहटी में हायर सेकेंडरी स्कूल खुल गया था। लेकिन क्षेत्र के छात्र छात्राओं के भविष्य चिंता किसी राजनेता नहीं की है और किसी ने डिग्री कॉलेज की मांग पर बिल्कुल ध्यान नहीं दिया है।

12वीं के बाद गांव के बच्चे नहीं कर पाते हैं पढ़ाई
गौरतलब है कि ककरहटी संकुल के अंतर्गत दो हायर सेकेंडरी स्कूल, 3 हाई स्कूल व 14 माध्यमिक शाला माध्यमिक शाला है। विद्यालयों के सभी छात्र-छात्राओं का जीवन बारहवीं कक्षा के बाद अधिकतर छात्र-छात्राओं का भविष्य कॉलेज न होने के कारण पढ़ाई पूरी न होने के बगैर अंधकार में हो जा रहा है। गरीब परिवारों के छात्र छात्राओं को १२वीं के बाद की पढ़ाई करने के लिए उनकी पारिवारिक स्तिथि मजबूत न होने से अधर में छोडऩी पड़ जाती है।

बेमानी साबित हो रहा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा
लगभग दर्जनभर पंचायतों के छात्र-छात्राओं के उज्जवल भविष्य के लिए ककरहटी में कॉलेज खोला जाना अति आवश्यक है। बताया कि शासन-प्रशासन बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ बेटी बढ़ाओ जैसे संकल्पों के साथ बेटियों के हितार्थ नाना तरह की योजनाएं चला रहा है। लेकिन ककरहटी में कॉलेज न होने से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ बेटी बढ़ाओ का संकल्प खोखला साबित हो रहा है। ज्ञापन में चेतावनी दी गई है कि अगले सत्र में डिग्री कॉलेज साइंस एवं आर्ट संकाय का कॉलेज स्वीकृत नहीं किया जाता है। तो अनिश्चित कालीन आमरण अनशन करेंगे।

Anil singh kushwah Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned