VIDEO: औरंगाबाद सीट से कांग्रेस के पूर्व सांसद निखिल कुमार को टिकट नहीं मिलने से नाराज कार्यकर्ताओं ने जमकर काटा बवाल

VIDEO: औरंगाबाद सीट से कांग्रेस के पूर्व सांसद निखिल कुमार को टिकट नहीं मिलने से नाराज कार्यकर्ताओं ने जमकर काटा बवाल
congress

Prateek Saini | Publish: Apr, 04 2019 06:18:36 PM (IST) | Updated: Apr, 04 2019 06:18:37 PM (IST) Patna, Patna, Bihar, India

बता दें कि लोकसभा चुनाव के मद्येनजर बिहार महागठबंधन में सीट का बंटवारा पहले ही तय किया जा चुका है...

(पटना,औरंगाबाद): कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आज पटना स्थित पार्टी कार्यालय पर जमकर बवाल काटा। इस घटना का वीडियो सामने आया है। जिसमें दिखाई दे रहा है कि कैसे प्रदेश प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल की उपस्थिति में पार्टी कार्यकर्ता लडाई पर उतारू हो गए। बवाल मचा रहे सभी कार्यकर्ता औरंगाबाद सीट से कांग्रेस के पूर्व सांसद निखिल कुमार को दोबारा उम्मीदवार न बनाए जाने से नाराज है। बिहार महागठबंधन के सीट शेयरिंग फार्मूले के तहत कांग्रेस की यह सीट जीतन राम मांझी की हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) की झोली में डाली गई है। 'हम' की ओर से उपेंद्र प्रसाद को उम्मीदवार बनाया गया है।

 

 

 

मिली जानकारी के अनुसार बिहार कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल के साथ ही प्रदेश नेतृत्व के शीर्ष नेता पार्टी कार्यालय में पार्टी की प्रचार समिति की बैठक में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे थे। पूर्व सांसद निखिल कुमार के समर्थक यहां पहले से ही मौजूद थे। इन कार्यकर्ताओं ने नेताओं को यह कहते हुए मीटिंग में जाने से रोका कि 'किस बात की मीटिंग।' ऐसा कहते हुए कार्यकर्ता वीडियो में साफ दिखाई दे सकते है। निखिल कुमार के समर्थकों ने शीर्ष नेताओं का रास्ता रोका तो माहौल गरमा गया। बवाल कर रहे कार्यकर्ताओं ने प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल के साथ धक्का—मुक्की भी की। वहां मौजूद बाकी नेताओं ने गोहिल के चारों ओर सुरक्षा घेरा बनाकर उनका बचाव किया। खुद निखिल कुमार ने कार्यकर्ताओं को शांत कराने की कोशिश लेकिन वह नाकाम रहे। इस घटना को लेकर प्रदेश कांग्रेस की कोई भी प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

 

 

बता दें कि लोकसभा चुनाव के मद्येनजर बिहार महागठबंधन में सीट का बंटवारा पहले ही तय किया जा चुका है। सीट शेयरिंग के तहत आरजेडी को 20, कांग्रेस को 9, रालोसपा को 5, हम को 3 और मुकेश सहनी की वीआईपी को तीन सीटें दी गई है। हम को गया, औरंगाबाद और नालंदा सीटें दी गई है। जीतन राम मांझी खुद गया सीट से चुनावी मैदान में है। औरंगाबाद से उपेंद्र प्रसाद और नीतीश कुमार के गृहक्षेत्र नालंदा से अशोक चंद्रवंशी को प्रत्याशी बनाया गया है।


औरंगाबाद सीट बनी कलह की वजह

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता निखिल कुमार ने औरंगाबाद सीट से 2004 में कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लडा था। निखिल कुमार को चुनाव में विजय हासिल हुई। इसके बाद हुए जदयू के सुशील कुमार सिंह यहां से चुने गए। सुशील कुमार सिंह ने 2014 में बीजेपी के टिकट पर यहां से चुनाव लड़ा और विजयी रहे।


यहां पर क्लिक करे और देखे बिहार महागठबंधन में किसको मिली कौनसी सीट

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned