भागवत के दौरे से बिहार में संघ को मिल रहा संबल,लगातार हो रहा विस्तार

बिहार में संघ प्रमुख के लगातार हो रहे प्रवास को बहुत ही अहम तौर पर देखा जा रहा है...

By: Prateek

Published: 24 May 2018, 05:18 PM IST

(पटना/बिहार): राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत अभी तीन दिवसीय बिहार दौरे पर हैं। वह नवादा में आयोजित संघ प्रशिक्षण वर्ग के कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं। जनवरी से अब तक संघ प्रमुख का तीसरा बिहार दौरा है। तीन महीनों के अंदर तीसरी बार बिहार प्रवास पर भागवत के आने के कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं।

बिहार में संचालित हो रही संघ की 1563 शाखाएं

सियासत की बातों को किनारे कर देखें तो संघ प्रमुख के बिहार प्रवास से संघ को सूबे में नई धार मिल रही है। संघ के कार्यक्रम और उसके विस्तार से भी इसकी पुष्टि होती है। ज्वाइन आरएसएस के तहत 2013 में जहां 25 हजार ऑनलाइन आवेदन आए थे वहीं 2017 में यह संख्या बढ़कर सवा लाख से ऊपर हो गई। बिहार में संघ की कुल 1563 शाखाएं, 242 साप्ताहिक मिलन और 137 मंडलियां संचालित हो रही हैं।

भागवत ने दिए स्वयंसेवकों को स्पेशल टास्क

भागवत ने फरवरी के प्रवास के दौरान स्वयंसेवकों को कई टास्क दिये। ग्राम विकास, गौ संवर्धन, जैविक खेती और नये स्वयंसेवक बनाने के टास्क दिये थे। उन्होंने शाखा लगाने और लोगों को संघ की विचारधारा से अवगत कराने को कहा था। अब संघ के प्रति समर्पित कार्यकर्ताओं की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। संघ के दक्षिण बिहार प्रांत प्रचार प्रमुख राजेश पांडेय ने बताया कि संघ प्रमुख ने फरवरी प्रवास के दौरान गांवों में जाकर किसानों को जैविक खेती के लिए प्रोत्साहित किया। संघ का उत्साह बढ़ा है और लोग उसके नजदीक आते जा रहे हैं और लगातार नए स्वयंसेवक संघ से जुड़ रहे है।

संघ शिविर में भाग लेने आए भागवत

गौरतलब है कि नवादा में 19 मई से 9 जून तक बीस दिवसीय शिविर का आयोजन किया जा रहा है। भागवत इसी शिविर में हिस्सा लेने के लिए बिहार आए है।

यह भी पढ़े: निपाह वायरस को लेकर 5 राज्यों में अलर्ट, हिमाचल में 20 चमगादड़ों के शव से हड़कंप

 

Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned