सरकार बनी कर्नाटक में प्रभाव पड़ा बिहार पर: तेजस्वी ने राज्यपाल से मांगा समय,मिलकर पेश करेंगे यह दावा !

सरकार बनी कर्नाटक में प्रभाव पड़ा बिहार पर: तेजस्वी ने राज्यपाल से मांगा समय,मिलकर पेश करेंगे यह दावा !

Prateek Saini | Publish: May, 17 2018 06:24:20 PM (IST) Patna, Bihar, India

कर्नाटक में येड़डीयुरप्पा के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेते ही बिहार की राजनीति भी गरमा गई है...

(पटना): कर्नाटक में येड़डीयुरप्पा के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेते ही बिहार की राजनीति भी गरमा गई है। लालू यादव के पुत्र और विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने राज्यपाल सतपाल मलिक से बिहार में बड़ी पार्टी के नाते सरकार बनाने के लिए दावा पेश करने का समय मांगा है। तेजस्वी यादव अपने दल के विधायकों की सूची लेकर शुक्रवार एक बजे राजभवन जाएंगे। इस बाबत तेजस्वी यादव ने ट्वीट भी किए।

 

राष्ट्रपति से की मौजूदा बिहार सरकार को भंग करने की मांग

कर्नाटक मेें भाजपा के सरकार बनाने से तेजस्वी बहुत नाराज है। तेजस्वी ने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा कि जब कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी के नाते भाजपा को सरकार बनाने का मौका मिल सकता है तो बिहार में क्‍यों नहीं? उन्होंने राष्ट्रपति से मांग की है बिहार की मौजूदा सरकार को भंग कर आरजेडी को सरकार बनाने के लिए बुलाया जाए। इस बाबत वह विधायकों की लिस्ट लेकर राज्यपाल से शुक्रवार को दोपहर एक बजे मिलने वाले हैं। वह राष्ट्रपति के नाम पत्र राज्यपाल को सौंपेंगे।

कर्नाटक मेें भाजपा कहां से लाएगी और विधायक:-तेजस्वी

तेजस्वी ने कहा कि बिहार में रातों रात फैसला कर नई सरकार बना दी गई थी। हमने राज्यपाल से समर्थक विधायकों की लिस्ट सौंपने और आरजेडी को सरकार बनाने का मौका देने की मांग रखी थी। पर हमारी नहीं सुनी गई और जदयू भाजपा को मौका दे दिया। तेजस्वी ने कहा कि कर्नाटक में खरीद फरोख्त को बढ़ावा दिया जा रहा है। भाजपा दरअसल एक ही तरह के मामले में दो स्टैंड लेकर चल रही है। वह चित्त भी मेरी और पट भी मेरी करना जानती है। उन्होंने कहा कि देश में एक ही संविधान है पर दो तरह के मापदंड नहीं हो सकते हैं। तेजस्वी ने कहा कि कर्नाटक में भाजपा को कहां से और विधायक लाएगी यह स्पष्ट करना होगा।

Ad Block is Banned