डॉक्टरों की कड़ी निगरानी में लालू प्रसाद यादव,किडनी फंक्शन पर रखी जा रही है विशेष तौर पर नजर

डॉक्टरों की कड़ी निगरानी में लालू प्रसाद यादव,किडनी फंक्शन पर रखी जा रही है विशेष तौर पर नजर

Prateek Saini | Publish: Sep, 02 2018 08:43:54 PM (IST) Patna, Bihar, India

ब्लड प्रेशन नार्मल है,लेकिन ब्लड में इंफेक्शन हो गया है...

(पटना): चारा घोटाले मामले में सजायाफ्ता राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद सीबीआई कोर्ट में सरेंडर करने के बाद से रिम्स में भर्त्ती हैं और चिकित्सकों की टीम उनके स्वास्थ्य पर लगातार नजर बनाए हुए है। रिम्स के डॉक्टर लालू प्रसाद के किडनी फंक्शन पर विशेष नजर बनाए हुए हैं। चिकित्सकों ने उन्हें सुबह टहलने की सलाह दी है।

 

सोमवार को होगी कई अहम जांचें

रिम्स में मेडिसिन विभाग के डॉ. उमेश प्रसाद ने बताया कि लालू प्रसाद का सोमवार को इको जांच किया जाएगा। चिकित्सकों ने बताया कि लालू प्रसाद का हीमोग्लोबिन (10.6) भी कम है। दूसरी तरफ उनका शुगर बढ़ा हुआ था, हालांकि ब्लड प्रेशन नार्मल है। लेकिन ब्लड में इंफेक्शन हो गया है। उनका टीएलसी बढ़ी हुई है। लालू प्रसाद का सोमवार को कलर डॉप्लर ईको कार्डियोग्राफी होगा साथ ही साथ ईसीजी भी कराया जाएगा।


यह कह रहे डॉक्टर

रविवार को लालू प्रसाद की जांच रिपोर्ट मिलने के बाद रिम्स के वरीय चिकित्सक उमेश प्रसाद ने कहा कि ब्लड का टोटल काउंट बढ़ने से पता चलता है कि उनके शरीर में इंफेक्शन हैं। वहीं उनका शुगर लेवल बढ़ा है। रिम्स के निदेशक डॉ.आरके श्रीवास्तव ने बताया कि ईसीजी और इको करने को कहा गया है, जिसे जल्द करा लिया जाएगा। जरूरत पड़ने पर मुंबई के एशियन हार्ट हॉस्पिटल के डॉक्टर से परामर्श लिया जाएगा। रिम्स प्रबंधन ने एक मेडिकल बोर्ड का गठन किया है।

 

सरेंडर करने के बाद से ही अस्पताल में लालू

बता दें कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव लंबे समय से बिमार चल रहे है। इलाज के लिए झारखंड हाइकोर्ट की ओर से उन्हें 11 मई को पहली बार छ हफ्ते की प्रोविजनल बेल दी थी। उसके बाद इलाज को ध्यान में रखते हुए कई बार बेल की अवधि बढाई गई। बीते दिनों हाइकोर्ट ने बेल अवधि को बढाने के लिए लगाई गई याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने इससे इंकार कर दिया और उन्हें 30 अगस्त तक सरेंडर करने के आदेश दिए थे। लालू ने आदेश की पालना करते हुए सरेंडर कर दिया था। हालांकि लालू सरेंडर करने के बाद से ही अस्पताल में हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned