नीतीश कुमार के खिलाफ मार्च निकाल रहे रालोसपा कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज, कई जख्मी

नीतीश कुमार के खिलाफ मार्च निकाल रहे रालोसपा कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज, कई जख्मी

Prateek Saini | Publish: Nov, 10 2018 03:59:11 PM (IST) Patna, Bihar, India

बता दें कि नीतीश कुमार की ओर से नीच शब्द का प्रयोग किए जाने से पार्टी नेता उपेंद्र कुशवाहा बेहद खफा हैं। पार्टी इसे वापस लेने की मांग कर रही है...

(पटना): एनडीए में एक साथ रहने के बावजूद रालोसपा और जदयू में आपस में ठनी हुई है। रालोसपा सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा नीतीश कुमार से पहले ही नाराज चल रहे थे वहीं नीतीश कुमार ने उनके खिलाफ कथित तौर पर नीच जैसे शब्द का प्रयोग कर एक नए विवाद को जन्म दे दिया। नीतीश के इस बयान के बाद से कुशवाहा समाज व रालोसपा समर्थकों में रोष है। आक्रोशित रालोसपा समर्थकों ने नीतीश कुमार के विरोध में मार्च निकाला। इस दौरान उनकी पुलिस से झड़प हो गई। पुलिस ने लाठीचार्ज किया जिसमें कई प्रदर्शनकारी घायल हो गए।


मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के की ओर से नीच शब्द का प्रयोग किए जाने से आक्रोशित रालोसपा ने के राजभवन मार्च के दौरान पुलिस से झड़प होने के बाद प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया या गया। पुलिस के लाठी वार में अनेक कार्यकर्ता जख्मी हो गए। पार्टी कार्यकर्ता राजभवन जा रहे थे कि पुलिस ने उन्हें गांधीमैदान के निकट करगिल चौक पर ही रोक दिया। बातचीत के दौरान होने वाली नोंकझोंक झडप में बदल गई। इसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया। इसमें कई कार्यकर्ता घायल हो गए।


बता दें कि नीतीश कुमार की ओर से नीच शब्द का प्रयोग किए जाने से पार्टी नेता उपेंद्र कुशवाहा बेहद खफा हैं। पार्टी इसे वापस लेने की मांग कर रही है। इस मुद्दे पर सियासी बयानबाजी भी तेज हो गयी है। जदयू ने भी प्रतिक्रिया दी और कहा कि कुशवाहा अपना गिरेबां झांकें। आरजेडी नेता भाई वीरेंद्र ने कहा कि रालोसपा का एनडीए में बनने वाला नहीं है।

Ad Block is Banned