नीतीश ने किया "थारू महोत्सव" का उद्घाटन, एसटी-एससी के आरक्षण को लेकर कही यह बात!

थारू महोत्सव में सभा को संबोधित करते हुए नीतीश ने एक बड़ा बयान दिया...

By: Prateek

Published: 22 May 2018, 07:25 PM IST

(पूर्वीचंपारण/बिहार): मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बगहा पहुंचकर थारू महोत्सव का उद्घाटन किया। सभा को संबोधित करते हुए नीतीश ने एक बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि 2021 की जनगणना के बाद अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति का आरक्षण बढ़ जाएगा।

शराबबंदी और दहेज उन्मूलन पर दिया जोर

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पश्चिम चंपारण के दो दिवसीय दौरे की शुरुआत हो चुकी है। दौरे के पहले दिन मंगलवार को नीतीश कुमार बगहा पहुंचे। नीतीश के पहुंचने पर लोक गीतों के साथ उनका स्वागत किया गया। नीतीश ने भारतीय थारू कल्याण महासंघ के 40वें महाधिवेशन (जिसे थारू महोत्सव के रूप में बनाया जाता है) का उद्घाटन किया। नीतीश ने महोत्सव के मंच से कई अहम बातें कही। अपने वक्तव्य में नीतीश ने दहेज उन्मूलन,शराबबंदी को शामिल किया। नीतीश ने कहा कि शराबबंदी का सबसे ज्यादा फायदा महिलाओं को हुआ है। महिलाओं के कल्याण के लिए ही शराबबंदी लागू की गई। अब हमे शरबबंदी से नशाबंदी की ओर बढना है। उन्होंने यह भी कहा कि दहेज उन्मूलन पर भी जोर देना होगा ऐसी कुप्रथाओं से मुक्त होने पर ही समाज का सर्वांगीण विकास हो पाएगा।

अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति के आरक्षण के विषय में यह बोले नीतीश

इसी बीच अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति के आरक्षण के विषय में मुख्यमंत्री ने कहा कि 2021 की जनगणना के बाद अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति का आरक्षण बढ़ जाएगा जिसके बाद दोनो वर्गों को अधिक फायदा होगा। नीतीश ने कहा कि बगहा में कोई भी सरकारी महाविधालय नहीं था हमने यहां महाविधालय की स्थापना की इससे क्षेत्र के लोगों को उच्च शिक्षा के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। वाल्मीकि नगर का जिक्र करते हुए नीतीश ने कहा कि यह राज्य का सबसे अच्छा इलाका है और यहां की हर समस्यां का समाधान किया जाएगा। नीतीश के दौरे को ध्यान में रखते हुए भारत-नेपाल की सीमा पर अलर्ट जारी कर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned