दुर्गा पूजा पंडाल में लालू-राबड़ी का दिखाया ऐसा भेष, संघ-राजद समर्थक आमने-सामने

दुर्गा पूजा पंडाल में लालू-राबड़ी का दिखाया ऐसा भेष, संघ-राजद समर्थक  आमने-सामने
अब लालू गरीबों के मसीहा और राबड़ी दिखी राजमाता के भेष में

Navneet Sharma | Publish: Oct, 07 2019 06:46:20 PM (IST) | Updated: Oct, 08 2019 12:12:38 AM (IST) Patna, Patna, Bihar, India

Lalu rabdi at pooja: रांची के दुर्गा पूजा (Durga Puja) पंडाल मे नवयुवक संघ द्वारा लालू प्रसाद (Lalu Yadav) की धोती-कुर्ते में मूर्ति लगाई गई है, चमकती साड़ी में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (Rabri Devi) को हाथ में हरे रंग की लालटेन के साथ दिखाया गया है...

(रांची,पटना) बिहार के मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव का परिवार हमेशा किसी न किसी बात को लेकर चर्चाओं में रहता है। भले ही होली-धुलंडी के अवसर पर लालू का ढोल लेकर समर्थकों के बीच डांस करना हो या फिर उनके पुत्र तेजप्रताप द्वारा अलग-अलग मौकों पर शंकर भगवान, श्रीकृष्ण रूप धरना हमेशा चर्चाओं में रहा है। लेकिन इस दफा झारखंड की राजधानी रांची के एक दुर्गा पंडाल में लालू प्रसाद को गरीबों के मसीहा व राबड़ी की प्रतिमा लगाने को लेकर हंगामा खड़ा हो गया है।

पूजा पंडाल में लगाई लालू-राबड़ी की प्रतिमा

अब लालू गरीबों के मसीहा और राबड़ी दिखी राजमाता के भेष में

झारखंड की राजधानी रांची नामकुम में नवयुवक संघ द्वारा पूजा पंडाल में लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी की प्रतिमा लगाई गई है। पूजा पंडाल में लालू प्रसाद की धोती-कुर्ते में मूर्ति बनायी गयी है जिसमें लालू प्रसाद को गरीबों के मसीहा के रूप में दर्शाया गया है। वहीं, दूसरी ओर चमकती साड़ी में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को हाथ में हरे रंग की लालटेन के साथ दिखाया गया है, प्रतिमा पर राजमाता राबड़ी देवी लिखा गया है। इसके साथ ही पंडाल के अंदर सैकड़ों लालटेन भी लगाए गए हैं।

प्रतिमा को लेकर संघ ने खड़ा किया विवाद

पूजा पंडाल में लालू-राबड़ी की प्रतिमा लगाने से विवाद हो गया। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेता माता दुर्गा के समकक्ष लगाई गई लालू व राबड़ी देवी की प्रतिमा का विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि मां दुर्गा के समकक्ष लालू व राबड़ी की प्रतिमा स्थापित करना गलत है। उसे वहां से तुरंत हटाया जाए। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के चाणक्य नगर बौद्धिक प्रमुख अभिषेक कुमार मिश्रा ने कहा कि नवरात्र में मां दुर्गा की पूजा की जाती है। माता शक्ति स्वरूपा हैं। माता के समकक्ष लालू व राबड़ी की प्रतिमा लगाना दुर्भाग्यपूर्ण है।

बिल्कुल गलत और असहनीय है

अब लालू गरीबों के मसीहा और राबड़ी दिखी राजमाता के भेष में

धर्म जागरण के प्रदेश संत प्रमुख स्वामी दिव्यानंद महाराज ने कहा कि दुर्गापूजा में पूरे विधि-विधान के साथ संपूर्ण देवी-देवताओं को आह्वान कर वेदी पर स्थापित किया जाता है। उसी वेदी पर एक साधारण सा मानव, वह भी कानून की दृष्टि में अपराधी प्रमाणित हो चुका है, और जेल में है, उसकी प्रतिमा बनाकर भगवान के समानांतर रखा गया है, जो कि बिल्कुल गलत और असहनीय है। उन्होंने कहा कि उपयुाक्त रांची और महानगर दुर्गपूजा के अध्यक्ष को भी फोन करके इसे हटाने के लिए निवेदन किया, किंतु इसपर उनकी ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं देखी गई।

माता के समकक्ष नहीं उनके सामने हाथ जोड़कर खड़े हैं
वहीं दूसरी ओर नवयुवक संघ पूजा पंडाल समिति के अध्यक्ष व राजद के प्रदेश महासचिव विनोद सिंह ने कहा कि उनकी लालू प्रसाद व राबड़ी देवी में गहरी आस्था है। उन्होंने कहा, प्रतिमा मां के समकक्ष नहीं रखी गई है। इसके अलावा, दोनों मां दुर्गा के सामने हाथ जोड़कर खड़े हैं। लालू व राबड़ी ने गरीबों को अधिकार दिलाने का काम किया है। ऐसे में उन्हें गरीबों का मसीहा कहने में किसी को क्या समस्या है?
राजनीति से लेकर अपने व्यक्तिगत जीवन तक में विशेष शैली के लिए जाने जाने वाले लालू प्रसाद यादव को झारखंड की दुर्गापूजा में एक अलग अंदाज में पेश किये जाने के बाद राष्ट्रीय जनता दल ने अपने टिवट्र पर इसकी एक तस्वीर शेयर की है और पार्टी न ेइसके लिए आयोजकों का आभार प्रकट किया है। राजद के वेरिफाइड टिवट्र हैंडल से लिखा गया है, 'रांची, झारखंड के नवयुवक संघ को राजद परिवार तहेदिल से आभार प्रकट करता है कि आपने गरीबों, उपेक्षितों, उत्पीडि़तों, उपहासितों, वंचितों के मसीहा लालू प्रसाद के सामाजिक कार्यों को कला के माध्यम से रेखांकित करने का सराहनीय कार्य किया है, इसके लिए बधाई के पात्र हैं, आपको ढेर सारी शुभकामनाएं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned