Bihar news: एनडीए और महागठबंधन में आर-पार की लड़ाई के बीच दलों का आंतरिक कलह भी सामने आया

बिहार विधानसभा उपचुनाव: बिहार विधानसभा की पांच और लोकसभा की एक सीट के लिए चुनाव हो रहे हैं। उपचुनाव में एनडीए और महागठबंधन के बीच आर-पार की लड़ाई है। हालांकि चुनावों में एक-दूसरे को हराने का खम भर रहे दोनों खेमों का आंतरिक कलह भी खुलकर सामने आने लगा है।

Navneet Sharma

October, 1707:01 PM

Patna, Patna, Bihar, India

Bihar news: पटना,प्रियरंजन भारती. बिहार विधानसभा की पांच और लोकसभा की एक सीट के लिए चुनाव हो रहे हैं। उपचुनाव में एनडीए और महागठबंधन के बीच आर-पार की लड़ाई है। हालांकि चुनावों में एक-दूसरे को हराने का खम भर रहे दोनों खेमों का आंतरिक कलह भी खुलकर सामने आने लगा है।
सीवान के दरौंदा में जदयू सांसद कविता सिंह की जगह उनके बाहुबली पति अजय सिंह जदयू उम्मीदवार हैं। यहां भाजपा के जिला उपाध्यक्ष निर्दलीय मैदान में हैं। गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ केंद्रीय मंत्री और लोजपाध्यक्ष रामविलास पासवान तथा भाजपा नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने साझा चुनाव प्रचार की शुरूआत की। सुशील मोदी ने मंच से तो यहां तक कह डाला कि व्यास देव यदि अजय सिंह के समर्थन में मैदान से नहीं हटते तो उन्हें पार्टी से निकाल दूंगा।
सिमरी बख्तियारपुर और नाथनगर में भी एनडीए के घटक दलों के बीच सार्थक एकजुटता नहीं नजऱ आ रही। सिमरी बख्तियारपुर में जदयू प्रत्याशी के पक्ष में भाजपा की सक्रियता नहीं दिख रही। नाथनगर में भाजपा के एक बड़े स्थानीय नेता की जदयू उम्मीदवार के प्रति उदासीनता और खामोशी बहुत कुछ बयां कर रही।
किशनगंज में भाजपा की स्वीटी सिंह चुनाव लड़ रही हैं। यहां कांग्रेस ने सांसद मो. जावेद की मां सईदा बानो को उम्मीदवार बनाया है। अल्पसंख्यक बहुल इस सीप पर भाजपा को जदयू के समर्थन की जरूरत नहीं भी मिले तो फर्क नहीं पडऩे वाला। यहां ओवैसी की पार्टी एआइएमआइएम के कमरूल होदा ने मुकाबला रोचक बना दिया है।
समस्तीपुर लोकसभा उपचुनाव में दिवंगत सांसद रामचंद्र पासवान के पुत्र प्रिंस राज और कांग्रेस के डॉ.अशोक राम के बीच सीधे संघर्ष में हम की अनामिका पासवान ने महागठबंधन के बिखराव की पटकथा लिखते हुए चुनाव को तिकोना बनाने की नाकाम कोशिशें की हैं। एनडीए यहां एकजुट तो है मगर उससे भी ज्यादा असरदार यहां रामचंद्र पासवान के पुत्र प्रिंस राज को सहानुभूति वोटों के कारण मिलने जा रहा है।
पांच विधानसभा में दरौंदा, नाथनगर, बेलहर और सिमरी बख्तियारपुर में जदयू और आरजेडी प्रत्याशी के बीच लड़ाई है। जबकि किशनगंज में भाजपा और कांग्रेस के बीच सधी टक्कर दिख रही है। इन सीटों पर आरजेडी को घटक दलों का समर्थन नहीं के बराबर मिल पा रहा। सिमरी बख्तियारपुर में महागठबंधन के घटक दल विकासशील इंसान पार्टी ने और नाथनगर तथा समस्तीपुर में हम ने आरजेडी तथा कांग्रेस के खिलाफ उम्मीदवार उतारकर महागठबंधन की एकता तार तार कर दी है। तेजस्वी यादव के साथ चुनाव प्रचार में भी किसी दल का नेता नहीं जा रहा। कांग्रेस और आरजेडी में तालमेल है पर शेष दल छिन्न विच्छिन्न नजऱ आ रहे हैं। रालोसपा तो सीन से पूरी तरह गायब ही हो गई है। इन सभी सीटों पर 21अक्टूबर को वोट पड़ेंगे और 23 अक्टूबर को परिणामों की घोषणा हो जाएगी।

Show More
Navneet Sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned