नरेन्द्र मोदी का बिहार दौरा,  खुफिया एजेंसियां सतर्क

नरेन्द्र मोदी का बिहार दौरा,  खुफिया एजेंसियां सतर्क
Modi minister

Shribabu Gupta | Updated: 20 Jul 2015, 08:57:00 PM (IST) Patna, Bihar, India

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 25 जुलाई को बिहार के एक दिवसीय दौरे के दौरान कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी...

पटना। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 25 जुलाई को बिहार के एक दिवसीय दौरे के दौरान कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। पटना और मुजफ्फरपुर में प्रधानमंत्री के कार्यक्रमों को लेकर राज्य सरकार और खुफिया एजेंसियां काफी सतर्कता बरत रही हैं। प्रधानमंत्री की सुरक्षा समेत अन्य तैयारियों को लेकर  पटना में उच स्तरीय समीक्षा बैठक हुई।


नरेन्द्र मोदी पीएम पद की जिम्मेवारी संभालने के बाद पहली बार बिहार आ रहे हैं। लोकसभा चुनाव से पूर्व भाजपा की हुंकार रैली के दौरान गांधी मैदान में सीरियल बम धमाके हुए थे। इसी के मद्देनजर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। मुजफ्फरपुर में पीएम की सभा की तैयारी में जुटीं खुफिया एजेसियां पटना ब्लास्ट से सबक ले रही हैं। ब्लास्ट का सीधा कनेक्शन  मुजफ्फरपुर से था। खुफिया अधिकारी यह पता कर रहे हैं कि पटना ब्लास्ट के बाद एनआईए ने मुजफ्फरपुर में किस-किस की तलाश में कहां-कहां छापेमारी की थी।


मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक में कई विभागों के प्रधान सचिव और डीजीपी समेत वरीय अधिकारी उपस्थित थे। प्रधानमंत्री बिहटा में बने आईआईटी के नवनिर्मित कैंपस का उद्घाटन पटना से ही करेंगे। रेलवे से जुड़ी परियोजनाओं को भी प्रधानमंत्री यहीं से हरी झंडी दिखाएंगे। इसके अलावा प्रधानमंत्री श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में आईसीएआर के स्थापना दिवस समारोह में भी शामिल होंगे। मोदी मुजफ्फरपुर में भाजपा की रैली को संबोधित करने हेलीकॉप्टर से जाएंगे। वापस पटना लौटने के बाद प्रधानमंत्री दिल्ली के लिए रवाना होंगे।


नेपाल सीमा से भारत में प्रवेश करते रहे हैं आतंकी - रक्सौल सहित बिहार से लगे बॉर्डर के अन्य इलाकों से आतंकवादी और नक्सली भारत में प्रवेश करते रहे हैं। मुम्बई के सीरियल ब्लास्ट का मास्टरमाइंड और इंडियन मुजाहिदीन का संस्थापक यासीन भटकल और उसका साथ हड्डी नेपाल सीमा के पास ही गिरफ्तार किया गया था।


खुफिया एजेंसियों के कान खड़े

पटना ब्लास्ट के बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी - एनआईए की टीम ने मुजफ्फरपुर में शहर से गांव तक कई स्थानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की थी। पटना ब्लास्ट के मास्टरमाइंड तहसीन उर्फ मोनू के तार मुजफ्फरपुर में कई लोगों से जुड़े थे। एनआईए की जांच में इंडियन मुजाहिदीन के खतरनाक आतंकी तहसीन उर्फ मोनू का नाम व उसकी तस्वीर सामने आने के बाद यह बात भी चर्चा में आई कि सीरियल ब्लास्ट के बाद तहसीन को मुजफ्फरपुर में देखा गया था। यह पहला मौका था जब देश में किसी बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देने वालों का मुजफ्फरपुर और समस्तीपुर से सीधा कनेक्शन उजागर हुआ था। इसलिए मुजफ्फरपुर में नरेन्द्र मोदी की सभा के दौरान आतंकी और उग्रवादी साजिश के खतरे को लेकर खुफिया एजेंसियों के कान खड़े हैं।




पीएम दिल्ली से पटना 25 की सुबह होंगे रवाना


प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेन्द्र मोदी की पहली बिहार यात्रा 25 जुलाई को होगी। दिल्ली से सुबह 8.35 पर पटना के लिए उड़ान भरेंगे। प्रधानमंत्री के सुबह सवा दस बजे पटना एयरपोर्ट पहुंच जाने की संभावना है। वहां से वे वेटनरी कॉलेज मैदान जाएंगे। यहां लगभग साढ़े दस बजे वे पांच योजनाओं का उद्घाटन करेंगे। यहां से वे श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल के लिए रवाना होंगे।

यहां वे पौने बारह बजे तक पहुंचेंगे और आईसीएआर के कार्यक्रम में भाग लेंगे। लगभग एक बजे वे श्रीकृष्ण मेमोरियलहॉल से निकल कर गांधी मैदान में बने हेलीपैड से मुजफ्फरपुर के लिए उड़ान भरेंगे। वहां उनकी जनसभा होगी। वहां से वे पटना लौटेंगे और लगभग साढ़े चार बजे दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned