बक्सरःसड़क जाम करने के आरोप में बाप गया जेल, दो बच्चों की भूख से मौत

बक्सरःसड़क जाम करने के आरोप में बाप गया जेल, दो बच्चों की भूख से मौत

Prateek Saini | Publish: Sep, 04 2018 07:02:39 PM (IST) Buxar, Bihar, India

आठ माह से परिवार को राशन भी नहीं मिल पा रहा था...

(बक्सर): बक्सर जिले के डुमरांव प्रखंड के कोरानसराय गांव के एक टोले में गत माह 28-29 तारीख को दो बच्चों की भूख से मौत हो गई। मामले पर से सप्ताह भर बाद पर्दा हट सका है। घटना की शुरुआत मई माह में हुई, जब सड़क हादसे में मुसहर परिवार के एक बच्चे की मौत हो गई थी। इसके बाद हुए सड़क जाम के मामले में शिवकुमार मुसहर नाम के शख्स को आरोपी बना कर पुलिस ने जेल भेज दिया। शिवकुमार की पत्नी धाना देवी के मुताबिक तब से ही घर की माली हालत खराब रहने लगी थी। शिवकुमार ही घर का एकमात्र कमाऊ शख्स था। धाना देवी के मुताबिक अधिकारियों से उन्होंने मदद की गुहार लगाई लेकिन किसी ने एक नहीं सुनी। आधार कार्ड नहीं होने से उसका राशन कार्ड भी अपडेट नहीं हो सका। इससे आठ माह से परिवार को राशन भी नहीं मिल पा रहा था।


मामला उजागर होने पर गांव के डीलर ने 20-20 किलो चावल और गेहूं पीड़िता के घर भिजवाए, पर तब तक काफी देर हो चुकी थी। प्रशासन इसके पीछे बीमारी की वज़ह बता रहा है। हालांकि पड़ोसियों की मानें तो पीड़ित परिवार के घर में कुछ भी नहीं है। मृत बच्चों की मां भी भूख और तंगी से कृशकाय हो चुकी है। जिला प्रशासन जांच में जुट गया है।


हालांकि जांच पूरी होने के पहले ही मौत की वजह बीमारी को बता कर प्रशासन फिर से सवालों के घेरे में आ गया है। बच्चों की मौत से बुरी तरह हिल चुकी मां जार-जार रो रही है। उसके तीन बच्चों में अब एक गोविंदा ही बचा है, जो खुद भी बीमार और काफी कमजोर दिखता है।

 

यह भी पढे: कोलकाता: माझेरहाट फ्लाई ओवर का हिस्सा गिरा, एक की मौत, कई के दबे होने की आशंका

यह भी पढे: प्रेमी के सामने चार लोगों ने महिला के साथ किया गैंगरेप, फिर दोनों के साथ किया ऐसा काम

Ad Block is Banned