भपंग वादक ने कोरोना पर बनाया गीत, सोशल मीडिया पर हिट

अलवर के यूसुफ खान ने तैयार किए तीन गीत, साथी कलाकारों के साथ फेसबुक पर किया शेयर

जयपुर. कोरोना वायरस के लिए अवेयर करने के लिए लोग अपने-अपने फील्ड में कई तरह से मैसेज देते नजर आ रहे हैं, इस कड़ी में अलवर के भपंग वादक यूसुफ खान ने भी कोरोना अवेयरनेस को लेकर तीन गीत तैयार किया है और उसे वे लगातार सोशल मीडिया पर प्रस्तुत भी कर रहे हैं। इन गीतों में यूसुफ लोगों को इस वायरस से दूर रहने के कई उपाय भी बता रहे हैं। कलाकार और उनकी टीम ने इसे मेवाती भाषा में ही तैयार किया है। गीत में बार-बार हाथ धोना, हाथ ना मिलाकर नमस्कार कहना, भीड़ वाली जगह पर नहीं जाना, खांसी, बुखार, सांस में तकलीफ हो तो डॉक्टर से संपर्क करने और अन्य सावधानियां बरतने का संदेश दिया गया है। इसके अलावा गीत में डॉक्टर्स से लेकर सरकार के निर्देशों की पालना की भी बात कही गई है।

राजस्थानी फोक का जलवा

भपंग वादक यूसुफ ने अपनी आवाज और साज के साथ इस गीत को लयबद्ध किया है। इनके साथ ढोलक पर कानाराम छलिया, हारमोनियम पर असलम भारती और भपंग पर महमूद खान और जाकिर खान संगत देते दिख रहे हैं। इससे पूर्व भी यूसुफ ने जल बचाओ, साफ-सफाई, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, नशा मुक्ति जैसे सोशल इश्यूज पर भी गीत तैयार किए हैं।

ये है गीत के बोल

घर-घर में अलख जगाएंगेभारत से कोरोना भगाएंगे

कैसे भगाएंगे जरा इसे जरूर से सुन लीजिए...बार-बार रे भय्या मेरे हाथ साबुन से धोना
हाथ मिलाना नहीं जरूरी, नमस्ते से काम चलाना

और भीड ़वाली जगह पर नहीं जाएंगे
भारत से कोरोना भगाएंगे

......................
भई क्या बीमारी चली देश में
मेरे कैसी आफत आई हैकोरोना से मची तबाही है

बचाव उपचार जरूरी है
अब हाथ जोडऩा मजबूरी है

Corona virus
Anurag Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned