देऊ खान ने राजस्थानी लोक गीतों का बिखेरा जादू

- राजस्थान फोरम की ऑनलाइन सीरीज 'सुमिरन' में रूबरू हुए बाड़मेर के देऊ खान मांगणियार

By: Anurag Trivedi

Updated: 19 May 2020, 02:22 PM IST

जयपुर. राजस्थान फोरम की ऑनलाइन सीरीज 'सुमिरन' की ११वीं कड़ी में शुक्रवार को बाड़मेर के लोक और मांड गायक देऊ खां मांगणिहार रूबरू हुए। देऊ खान ने कई चर्चित राजस्थानी भक्ति और लोक गीतों के माध्यम से देखने वालों को आध्यात्मिक अनुभूति करवाई। कार्यक्रम की शुरुआत में कलाकार ने राजस्थानी लोक भजन 'आगे आगे राम चलत है' से की। इसके बाद उन्होंने 'केसरिया बालम', 'पणिया प्यारा राज', 'म्हारो गोरबंद नखरालो', 'खम्मा खम्मा हो रामा रुणिचे रा धणिया', 'झिरमिर बरसे मेघ', 'नीबूड़ा नीबूड़ा', 'दमादम मस्त कलंदर' जैसे गीतों से ऑनलाइन देख रहे सैकड़ों लोगों को एक घंटे तक बांधे रखा।
इस मौके पर उनके परिवार के सदस्यों ने कमायचा, ढ़ोलक और खड़ताल की तिगुलबंदी भी पेश की। कमायचा पर भूगर खान, खड़ताल पर मजीत खान, हारमोनियम पर घेवर खान, मोरचंग पर शरीफ खान और बाल कलाकार लाडू खान और दीन खान ने गायन पर संगत की। सुमिरन की आगामी बारहवीं कड़ी में रविवार को श्रीडूंगरगढ़, बीकानेर के भजन गायक सांवर मल कथक प्रस्तुति देंगे।

Anurag Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned