यूरोप में खुला लॉकडाउन, रहीस भारती के नेतृत्व में धोद बैंड करेगा परफॉर्म

पेरिस सहित अलग—अलग शहरों में होंगे कई कॉन्सर्ट, कोरोना काल में प्रदेश के कलाकारों की कर रहे हैं मदद, बाडमेर, जैसलमेर, जयपुर के कलाकारों के घर पहुंचा चुके राशन

 

By: Anurag Trivedi

Published: 26 May 2021, 03:31 PM IST

जयपुर. कोरोना काल में कुछ खबरें सुकून भी प्रदान कर रही है। लॉकडाउन के चलते पिछले कई महीनों से यूरोप में रूके हुए जयपुर के धोद बैंड अब इंटरनेशनल कॉन्सर्ट में लोगों के बीच परफॉर्म करता नजर आएगा। यूरोप में लॉकडाउन खुल गया है। इंटरनेशनल टूर पर गए धोद बैंड के समूह ने यूरोप की जमीं पर कोरोना जैसी जंग में राजस्थानी संगीत को ढाल बनाकर लोगों के स्ट्रेस को दूर करने का काम किया है। गु्रप का नेतृत्व कर रहे रहीस भारती ने फोन पर बताया कि बैंड फिर से अपना जलवा दिखाने को बेताब है। फ्रांस में लॉकडाउन का खुलना धोद बैंड के लिए किसी खुशी से कम नहीं है।आगामी चार महीनों तक होने वाले म्यूजिकल शोज में धोद बैंड परफॉर्म करेगा। कई शोज के टिकट की बुकिंग्स भी हो चुकी है।

लॉकडाउन खुलते ही किया परफॉर्म

रहीस भारती ने बताया कि जैसे ही फ्रांस में लॉकडाउन खुला तो एक कॉन्सर्ट आयोजित किया गया, जिसमें धोद बैंड के कलाकारों ने अपने स्वर और साज की सुरीली धुनों से लोगों का मनोरंजन किया। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन खुलने के जश्न के मौके पर सिटी ऑफ टूर के तहत क्षेत्रीय प्रेसिडेंट फ्लारंओस बोनौ के सामने अपनी कला का प्रदर्शन करने का मौका मिला। आगामी दिनों में धोद बैंड फ्रांस के कई शहरों में राजस्थानी कला की खुशबू को फैलाएगा। जून माह में फ्रांस के कई शहरों में होने वाले म्यूजिक फेस्टिवल में राजस्थानी लोकसंगीत की धुनों को प्रस्तुत करेगा।
हॉलैंड मुंडो फेस्ट में देंगे प्रस्तुति

जानकारी के मुताबिक 25 व 26 जून को जयपुर का बैंड हॉलैंड म्यूजिक मुंडो फेस्टिवल में परफोर्म करेगा। साथ ही जुलाई में पुर्तगाल और अगस्त माह में भी यूरोप के कई शहरों के म्यूजिक फेस्टिवल में अपनी राजस्थानी कला का प्रदर्शन करेगा। इस टूर में रहीस के साथ में पिता उस्ताद रफीक मोहम्मद तबले पर, मंजू सपेरा डांस, पिंटू राणा ढोलक, मोईनउद्दीन खान गायन व हारमोनियम, बंटी नगाड़ा, तंवरलाल और कौशल राणा भवाई नृत्य प्रस्तुति देंगे। रहीस ने इस संकट की घड़ी में प्रदेश के लोक कलाकारों की मदद में भी कोई कसर नहीं छोड़ी है। बाड़मेर और जैसलमेर के कलाकारों के लिए उन्होंने २०० राशन किट पहुंचाए हैं और जयपुर के कलाकारों की मदद भी कर रहे हैं।

100 देशों में 1200 से ज्यादा कॉन्सर्ट
रहीस भारती ने बताया कि संकट के समय में भी राजस्थान के कलाकार विदेशी धरती पर लोगों के साथ खुशियां बांटने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भले ही पेरिस में लॉकडाउन खुल गया हो, लेकिन अभी भी कोरोना की वजह से लोग सहमे हुए हैं। ऐसे में लोगों के स्ट्रेस को दूर करने के लिए कई म्यूजिकल कंपनियां और सरकार की ओर से ऐसे शो आयोजित किए जा रहे हैं, जिनकी वजह से कोरोना के स्ट्रेस को दूर किया जा सके। गौरतलब है कि रहीस भारती ने 20 सालों में अपने धोद बैंड के माध्यम से 110 देशों में करीब 1200 सौ से ज्यादा कार्यक्रम पेश किए है। रहीस भारती को विदेशों में राजस्थान की संस्कृति का राष्ट्रदूत कहा जाता है।

Anurag Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned