रंग मल्हार में शामिल होंगे 25 से ज्यादा देश, कैरी बैग पर करेंगे चित्रकारी

राजस्थान के कलाकारों ने सुखद बारिश की कामना के लिए शुरू किया था इवेंट, प्रदेशभर से 1500 से ज्यादा कलाकारों ने करवाया रजिस्ट्रेशन

By: Anurag Trivedi

Published: 04 Jul 2020, 06:37 PM IST

जयपुर. सुखद बारिश और पर्यावरण की सुरक्षा की कामना के लिए राजस्थान के कलाकारों का अभियान 'रंग मल्हार' इस बार इंटरनेशनल रंग में रंगा हुआ नजर आएगा। पांच जुलाई को ऑनलाइन होने वाले इस इवेंट में भारत सहित विश्वभर के 25 से ज्यादा देशों के कलाकार रंगों से मैसेज देते नजर आएंगे। इस बार कलाकारों को 'कैरी बैग' पर चित्र बनाना है। सभी कलाकार अपने घरों में या स्टूडियो में रहते हुए कैरी बैग पर चित्र बनाएंगे और उसी दिन उनके फोटोज को रंग मल्हार के फेजबुक पेज पर प्रदर्शित किए जाएंगे। यह इवेंट अपने ऑब्जेक्ट्स के लिए खास तौर पर अलग पहचान बनाता है, हर साल एक अलग ऑब्जेक्ट पर चित्रकारी करते हैं और पर्यावरण से जुड़े मैजेस देते नजर आएंगे।

इन देशों की दिखेगी भागीदारी
यंग आर्टिस्ट मनीष शर्मा ने बताया कि इस बार इंटरनेशनल कलाकारों की भागीदारी खास नजर आएगी। विदेशी कलाकारों ने सोशल मीडिया के जरिए सहमति जताई है और इस अभियान से जुडऩे का संकल्प लिया है। अब तक साउथ कोरिया, जापान, फिलिपिन्स, इंडोनेशिया, मलेशिया, सिंगापुर, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, श्रीलंका, बांग्लादेश , इजिप्ट, सुडान, टर्की, ग्रीस, सर्बिया, इटली, टुनिशिया, पुर्तगाल, इंग्लैंड, फ्रांस, स्लोवाकिया, जर्मनी, पौलेंड, यूएसए, कनाडा, आइसलैंड और वैल्स जैसे देशों के कलाकारों ने सहमति जताई है। सभी कलाकार कैरी बैग पर चित्र बनाएंगे और अपनी अभिव्यक्ति को बयां करेंगे।

इंडिया के अलग-अलग शहरों के कलाकार
इस बार राजस्थान के 1500 से ज्यादा कलाकारों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। इसमें प्रदेश के अधिकांश जिले शामिल है। सबसे ज्यादा जयपुर के कलाकारों की भागीदारी है। वहीं देशभर से गुजरात, तमिलनाडू, महाराष्ट्र, दिल्ली सहित कई राज्यों के कलाकार भी इस इवेंट में शिरकत करते नजर आएंगे। रंग मल्हार के संयोजक वरिष्ठ चित्रकार विद्यासागर उपाध्याय ने बताया कि हर जिले में एक सेंटर डवलप किया है, जहां काफी अच्छा रेस्पॉन्स मिल रहा है। हर सेंटर से काफी अच्छा रेस्पॉन्स है। राजस्थान से 1500 से ज्यादा रजिस्ट्रेशन है। इस बार हम ऑनलाइन एग्जीबिशन के साथ कैटलॉग भी पब्लिश करवाने की प्लानिंग में जुटे हैं।

राजस्थान से बाहर भी बेहतर रेस्पॉन्स

उपाध्याय ने बताया कि हम हर साल यह इवेंट राजस्थान में ही करते थे और हर साल देश-विदेश के कलाकार इससे जुडऩे की इच्छा जताते थे। इस बार जब हम ऑनलाइन इवेंट प्लान कर रहे थे, तब हमने इसे राजस्थान से बाहर के कलाकारों को भी जोडऩे का प्लान किया। इसके बाद लगभग 25 से ज्यादा देशों के कलाकारों ने जुडऩे पर सहमति जताई। इसके तहत देश-विदेश के लगभग 2500 कलाकार अपनी कलाकृतियां तैयार करेंगे। यह अपने आप में एक रिकॉर्ड होगा। हमने इस बार सुखद बारिश के साथ कोरोना से बचने का भी संकल्प लिया है। ऐसे में कैरी बैग को इसलिए चुना है कि इसके लिए लोगों को घर से बाहर जाने की जरूरत नहीं होगी और एक सुंदर मैसेज दुनियाभर में जा पाएगा।

Anurag Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned