सैकंड इनकम : मेहंदी में बनाया नाम, फूड के शौक ने दिलवाई पहचान

मां-बेटी की जोड़ी ने टेक्नोलॉजी और ट्रेडिशनल नजरिए के साथ खोले इनकम के द्वार, यूट्यूब चैनल पर 1.21 मिलियन सब्सक्राइबर जुड़े

By: Anurag Trivedi

Published: 25 Aug 2021, 05:03 PM IST

अनुराग त्रिवेदी
जयपुर. मां-बेटी की जोड़ी अपने काम और कलात्मक आइडियाज के जरिए सोशल मीडिया पर अपना नाम बनाए हुए है। जवाहर नगर में रहने वाली ज्योति सचदेवा और उनकी बेटी श्रेया सचदेवा ने साढ़े चार साल पहले मेहंदी आर्ट से जुड़ा काम शुरू किया था, इसके बाद उन्होंने अपने फूड के शौक को बिजनेस आइडिया में बदलकर टिफिन मील की शुरुआत की और आज इससे घर-घर से प्रशंसा और एक नया इनकम सोर्स भी डवलप कर चुकी हैं। चैनल पर इन्होंने मेहंदी वीडियोज से शुरुआत की। आज इस चैनल को लगभग 12 लाख लोग सब्सक्राइब कर चुके हैं। ज्योति जहां ट्रेडिशनल अंदाज में क्रिएटिविटी के साथ प्रोडक्ट तैयार करती है, वहीं श्रेया टेक्नोलॉजी की ताकत के साथ उस प्रोडक्ट को आम लोगों तक पहुंचाने में जुटी हुई है।

लोगों की पसंद पर बदला नजरिया

श्रेया न बताया कि जब हम मेहंदी की नई-नई डिजाइंस के वीडियोज और पिक्चर्स डालते थे, तो दुनियाभर के लोगों से नई-नई तरह की डिमांड आती थी। मम्मी को कुकिंग करने का शौक रहा है, ऐसे में हम रिश्तेदारों और दोस्तों की फरमाइश पर फूड आइटम बनाने लगे। इसके बाद लगा कि इनकी रेसिपीज को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर किया जाए। जब हमने यूट्यूब पर इन वीडियोज को डाला तो वहां भी अच्छा रेस्पॉन्स मिलना शुरू हुआ। इसके बाद हमने ऑनलाइन और ऑफलाइन फूड सर्विस का काम शुरू किया। इससे लगभग 30 हजार रुपए महीना एक्स्ट्रा इनकम होने लगी है।

छोटे स्तर पर शुरुआत

ज्योति सचदेवा ने बताया कि कुकिंग में हमेशा एक्सपेरिमेंट करती रहती थी और लोगों को यह पसंद भी आता था। जब टिफिन मील की शुरुआत की, तो इसे छोटे स्तर पर ही शुरू किया। कोरोना टाइम पर सभी तरह के हॉस्टल बंद थे। ऐसे में हमने हॉस्पिटल्स में घर का खाना देने की शुरुआत की। इसके लिए लगभग 10 हजार रुपए का इन्वेस्टमेंट किया, बाकी सभी तरह की चीजें घर की ही उपयोग में आई। हॉस्पिटल्स में आने वाले पैशेंट्स के परिजनों के साथ डॉक्टर्स को भी हमारा खाना पसंद आने लगा। आज कम से कम 40 टिफिन तैयार हो रहे है। हम क्वालिटी पर फोकस करते है, ऐसे में डॉक्टर्स अपने मनपसंद की चीजे बनवाने के लिए भी स्पेशल ऑर्डर देते हैं।

फैशन और स्किन केयर टिप्स

श्रेया ने बताया कि यूट्यूब पर मैंने अब फैशन एसेसरीज और स्किन केयर से जुड़े विषयों पर वीडियोज बनाने शुरू किए हैं। इसको लेकर भी अच्छा खासा रेस्पॉन्स देखने को मिल रहा है। हमने मेहंदी से जुड़े वीडियो से शुरुआत की थी, ऐसे में हमारे से दुनियाभर की महिलाएं जुड़ी हुई है। उनकी सेहत और अन्य जरूरी जानकारी देने के लिए फैशन व स्किन केयर विषय भी हिट रहा है। अब इन वीडियोज से भी इनकम होने लगी है।

1. टेक्नोलॉजी के साथ अपडेट

यूट्यूबर के तौर पर काम करने के लिए आपको टेक्नोलॉजी के साथ अपडेट रहने की आवश्यकता होती है। हम किसी पर डिपेंड ना रहे, इसके लिए एडिटिंग से लेकर कैमरा टेक्निक और वॉयस रिकॉर्डिंग की स्पेशल ट्रेंनिंग ली।
2. ट्रेंड को फॉलो करना जरूरी

मार्केट में बने रहने के लिए ट्रेंड का फॉलो करना बहुत जरूरी है। आज हर क्षेत्र में एक्सपट्र्स काम कर रहे हैं, ऐसे में लोगों की जरूरत के हिसाब से इनोवेशन करना भी बहुत जरूरी है।

यूट्यूब चैनल पर आंकडे

2016- 37000

2017 - 63000

2018 - 1 लाख

2019 - 10 लाख

2020 - 12 लाख

Anurag Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned