बेटे को जबड़े में दबोचे था तेंदुआ, जान बचाने के लिये तेंदुए से लड़ता रहा पिता

Akansha Singh

Updated: 12 Sep 2019, 09:13:10 AM (IST)

Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

बहराइच. कतर्निया जंगल से सटे सुजौली इलाके से एक बड़ा दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है, जहाँ के तिर्जुगी नारायण नाम के एक पिता ने अपने बेटे की जान बचाने के लिये आदमखोर तेंदुए से भिड़ा रहा। आप को बता दें कि 25 वर्षीय कृपा राम को जंगल से निकले तेंदुए ने झपट्टा मारकर अपने जबड़े में दबोच लिया, इस घटना में आदमखोर तेंदुए ने हमला कर जहां उसे बुरी तरह घायल कर डाला, वहीं बेटे की चीख पुकार सुनकर बेटे के साथ साइकिल पर आगे जा रहे पिता तिर्जुगी नारायण के कान में जब बेटे की चीख सुनाई दी तो वो आनन फानन में मौके पर पहुंचे और तेंदुए से संघर्ष करके किसी तरह आदमखोर तेंदुए के चंगुल में फंसे अपने बेटे को छुड़ाया, जानकारी के अनुसार दो साइकिलों पर सवार होकर पिता और पुत्र गिरजापुरी कालोनी की तरफ जा रहे थे इसी दौरान जंगल से निकले तेंदुए ने कृपा राम को अपने जबड़े में दबोच लिया, तेंदुए के हमले में घायल कृपा राम के सिर का पिछला हिस्सा बुरी तरह जख्मी हो गया है जिसे डॉक्टरों ने इलाज के लिये बहराइच मेडिकल कालेज से लखनऊ रिफर किया है। पीड़ित पिता का कहना है कि उसने अपने बेटे की जान बचाने के लिये आदमखोर तेंदुए से तकरीबन 15 मिनट तक सँघर्ष करके तेंदुए के जबड़े से अपने बेटे को छुड़ाया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned