एसबीआई की मनमानी, खातेदारों के खाते से बिना पूछे कट रही राशि

एसबीआई की मनमानी, खातेदारों के खाते से बिना पूछे कट रही राशि

Nakul Ram Sinha | Publish: May, 24 2019 05:06:06 AM (IST) Rajnandgaon, Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

ग्राहकों से बिना पूछे कर रहे बीमा

राजनांदगांव / डोंगरगढ़. भारतीय स्टेट बैक में इन दिनों खातेदारों से अघोषित रूप से की गई अनके खातों से जबरन वसूली को वापस लेने के लिए लाईन लग रही है। बैंक द्वारा बिना खातेदारों को बताए खाते से अचानक राशि काटे जाने से खाताधारकों में खलबली मच गई है। बैंक में अपना पैसा वापस लेने बड़ी संख्या में पहुंचे खातेदारों ने बैक में पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई। बंैक अधिकारी एक तरफ तो जानकारी नही होने की बात कह रहे है, वहीं दूसरी ओर स्टेट बंैक की डोंगरगढ़ शाखा में भिलाई से आए एक अधिकारी ने स्वीकार किया कि एक वार्षिक स्वास्थ बीमा योजना अनिवार्य रूप से लागू कर दी गई जिसका प्रत्येक ग्राहक को लगभग 600 प्रतिवर्ष वहन करना है।

खातेदारों की बैंक में लगी लाईन
अछोली के जितेन्द्र गुप्ता, डोंगरगढ़ की टिव्ईकल खेमका पारख सहित बड़ी संख्या में बैंक में पहुुंचे ग्राहकों ने जब हंगामा किया तो उक्त अधिकारी ने शाम तक खाते में राशि वापस करने का आश्वासन देकर उन्हें रवाना कर दिया। अधिकांश खातेदारों को तो जिनके मोबाईल में मैसेज अर्लट नही है यह भी नही मालूम की उनके खाते से राशि काट ली गई है। इस बैक में लाखों की संख्या में खाताधारक है जिनके खाते कई वर्षो से संचालित है। अब बिना पूछे राशि काटे जाने से एक विश्व स्तरीय बैंक के प्रति ग्राहकों का विश्वास उठने लगा है।

राशि काटे जाने का उल्लेख भी नहीं
जिन खातादारों के पास खाते से राशि काटे जाने के मैसेज पहुंच रहे हैं उस मैसेज में भी स्पष्ट उल्लेख नही है कि यह राशि किस कारण काटी जा रही है। शाखा प्रबंधक का कहना है कि जानकारी के अभाव में वे कुछ नही कह सकते।

लगातार मिल रही शिकायते
बैंक अधिकारी ने यह भी स्वीकार किया कि उपभोक्ताओं की शिकायते लगातार मिल रही है और हम उन्हे उच्च अधिकारियो तक पहुंचा भी रहे है। किन्तु कारण ज्ञात नही होने के कारण वे कुछ करने में असमर्थ है। मई माह में अचानक राशि कटने की शिकायतें लगातार आ रही है जिसे लेकर खाताधारकों में जमकर नाराजगी का माहौल है। कभी भी अप्रिय घटना घट सकती है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned