इस देवी मंदिर की शक्ति देख NASA के वैज्ञानिक भी हैं हैरान, रहस्य उड़ा रखी है नींद

मंदिर के आसपास वाला पूरा इलाका 'वैन एलेन बेल्ट' है

हमारे देश में कई देवी मंदिर है लेकिन आज जिस मंदिर के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं, उसकी शक्ति देख नासा के वैज्ञानिक भी हैरान हैं। इस देवी मंदिर का रहस्य उनकी नींद उड़ा रखी है।

ये भी पढ़ें- एक ऐसा मंदिर, जहां माता कौशल्या की गोद में हैं भगवान राम

यह देवी मंदिर उत्तराखंड की अल्मोड़ पहाड़ियों पर स्थित है। इस मंदिर को कसार देवी मंदिर के नाम से जाना है। मंदिर के आसपास वाला पूरा इलाका 'वैन एलेन बेल्ट' है, जहां धरती के अंदर विशाल भू-चुंबकीय पिंड है।

kasar_devi1.jpg

साक्षात प्रकट हुई थीं देवी मां

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, यहां पर देवी मां साक्षात प्रकट हुई थीं। बताया जाता है कि यह भारत का पहला स्थान है, जहां चुंबकीय शक्ति मौजूद है। बताया जाता है कि यहां आने वाले मां के भक्त बिना किसी थकावट के सौकड़ों सीढ़ियां चढ़ जाते हैं।

kasar_devi_temple.jpg

नासा के वैज्ञानिक भी कर चुके हैं शोध

बताया जाता है कि इस देवी मंदिर के आसपास कई शक्तियां मौजूद हैं। यही कारण है कि इस जगह के बारे में नासा के वैज्ञानिक भी शोध कर चुके हैं लेकिन आज तक इस मंदिर का रहस्य सुलझा नहीं पाए हैं।

kasar_devi_2.jpg

चुंबकीय शक्ति का केंद्र

शोध में पाया गया है कि अल्मोड़ा के इस मंदिर और दक्षिण अमेरिका के पेरू स्थित माचू-पिच्चू व इंग्लैंड के स्टोन हेंग में अद्भुत समानताएं हैं। जानकारों के अनुसार, इस स्थान को अद्वितीय और चुंबकीय शक्ति का केंद्र माना जाता है, जहां मानसिक शांति महसूस होती है।

Show More
Devendra Kashyap
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned