पीलीभीत में बीमारी से 14 लोगों की मौत, स्वास्थ्य विभाग अलझा कारण पता लगाने में

स्वास्थ्य विभाग के बेहतर सुविधाओं के दावे के कोरे साबित हो रहे हैं। तेज बुखार से होने वाली मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है।

Amit Sharma

September, 1305:07 PM

Pilibhit, Uttar Pradesh, India

पीलीभीत। स्वास्थ्य विभाग के बेहतर सुविधाओं के दावे के कोरे साबित हो रहे हैं। तेज बुखार से होने वाली मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है। आज बीसलपुर, बरखेड़ा व पूरनपुर में तीन लोगों की इलाज के दौरान मौत हो गई। इसीके साथ अब जिले में बुखार से मरने वालों की संख्या बढ़कर 14 हो गई। बीसलपुर में अभी भी दर्जनों लोग बुखार की चपेट में हैं। बुखार से पीड़ित मरीजों की कतार जिला अस्पताल में लगी हुयी है। स्वास्थ्य विभाग बुखार प्रभावित क्षेत्रों में मेडिकल कैंप लगाने के साथ ही फागिंग व एंटी लार्वा स्प्रे का छिड़काव कराने का दावा कर रहा है और इन मौतों का कारण कुछ और बता रहा है।

बीसलपुर तहसील क्षेत्र के दिवाली गांव निवासी रामौतर श्रीवास्तव के बेटे धर्मवीर (28) को चार दिन पूर्व बुखार आने पर बरेली के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। उपचार के दौरान रात धर्मेंद्र ने दम तोड़ दिया। पूरनपुर के गांव खिरकिया निवासी श्रीकांत के पुत्र बादल (5) को तीन दिन से बुखार था। हालत गंभीर होने पर परिवार वाले बादल को सीएचसी ले जा रहे थे कि रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। बरखेड़ा क्षेत्र के गांव नवादा महेश निवासी हरिओम की बेटी पूजा (14) को चार दिन से बुखार था। बिगड़ने पर परिवार वाले पूजा को पीलीभीत के निजी अस्पताल ले जा रहे थे कि रास्ते में उसने दम तोड़ दिया।

अबतक इनकी हुयी मौत

पुन्नापुर के सुमित पुत्र रामसरन, शीला पुत्री ओमकार निवासी पुन्नापुर, बैदुल रहमान निवासी कलीनगर, प्रीती पुत्री लालाराम निवासी बीसलपुर, अवनीश पुत्र सुरेश निवासी मुरादपुर बीसलपुर, माया राय पुत्री उपेन्द्र निवासी रमनगरा, मोहल्ला गोपालसिंह की छात्रा शिवांगी, गांव रम्पुरा की अंगूरा देवी, बीसलपुर के गांव दोहा का अरुण, पूरनपुर क्षेत्र के गांव कुर्रैया के अवनीश, खिरकिया के बादल, बरखेड़ा क्षेत्र के गांव नवादा महेश की पूजा, बीसलपुर के धर्मवीर, जहानाबाद के वासिफ यार खां को दिमागी बुखार होने पर बरेली के निजी अस्पताल में भर्ती कराया।

क्या कहती हैं सीएमओ

सीएमओ डॉ सीमा अग्रवाल का कहना है कि जहां-जहां बुखार से मौत होने की सूचना उन्हें मिली वहां उन्होंने टीम भेजकर निरीक्षण कराया लेकिन सिर्फ एक ही मौत बुखार से हुयी है बाकी सभी की मौत के कारण अन्य बीमारिया हैं।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned