यहां गन्ना के खेत मे रहने वाले बाघों के बारे में सबसे बड़ा खुलासा, हर कोई हैरान है

यहां गन्ना के खेत मे रहने वाले बाघों के बारे में सबसे बड़ा खुलासा, हर कोई हैरान है

jitendra verma | Publish: May, 10 2019 05:13:58 PM (IST) | Updated: May, 10 2019 05:13:59 PM (IST) Pilibhit, Pilibhit, Uttar Pradesh, India

अमरिया क्षेत्र में पिछले एक साल में जंगल के बाहर बाघ ने किसी भी इंसान पर हमला नहीं किया है।

पीलीभीत। अमरिया तहसील क्षेत्र में गन्ने के खेतों में प्रवास कर रहें बाघों को शिफ्ट तो नहीं किया जा सका है लेकिन इन बाघों ने अपना स्वाभाव बदल लिया है। इंसानों के बीच चहलकदमी के बीच बाघ इंसानों पर हमलावर नहीं हो रहे हैं। बाघ सिर्फ मवेशियों का ही शिकार कर रहे हैं। अमरिया क्षेत्र में पिछले एक साल में जंगल के बाहर बाघ ने किसी भी इंसान पर हमला नहीं किया है। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि इंसानों और बाघ के बीच यहाँ दोस्ती हो गई है। इंसानों के बीच बाघों के कुनबे की मौजूदगी वाला अमरिया पहला इलाका बनेगा। लम्बे समय तक की गई रिसर्च के बाद विभागीय एक्सपर्ट अब ये दावा कर रहे हैं।

11 बाघ है क्षेत्र में

टाइगर रिजर्व के बाहर अमरिया तहसील क्षेत्र में 2012 में बाघ की चहलकदमी शुरू हुई थी। उस समय दो बाघों की मौजूदगी इंसानों पर भारी पड़ने लगी थी और कई लोग बाघ का निवाला बन गए। जिसके बाद विरोध प्रदर्शन शुरू हुआ तो बाघों को पकड़ने का अभियान चलाया गया लेकिन ये अभियान सफल नहीं हो पाया और बाघों ने आबादी क्षेत्र को पसंद कर लिया और अपनी दूसरी पीढ़ी को जन्म दिया और यहाँ पर बाघों की संख्या छह हो गई। जिसके बाद बाघों को यहाँ से शिफ्ट करने की योजना बनी लेकिन ये योजना सफल नहीं हो सकी। जिसके बाद बाघ की तीसरी पीढ़ी भी धरातल पर आ गई। मौजूदा समय में यहाँ बाघों की संख्या 11 हो गई है। जिसमे दो नर बाघ, बाघिन और शावक हैं।

इंसानों पर नहीं करते हमला

अमरिया क्षेत्र में प्रवास किए बाघों ने शुरू में तो कई इंसानों को अपना निवाला बनाया लेकिन बीते एक साल में जंगल के बाहर बाघ इंसानों पर हमला नहीं कर रहे हैं। 10 अगस्त 2017 को बेहरी निवासी कुंवरपाल को बाघ ने अपना निवाला बनाया था लेकिन उसके बाद से बाघ ने किसी को भी निवाला नहीं बनाया है। अप्रैल 2018 में बाघ ने उदयपुर गाँव की दो महिलाओं को घायल कर दिया था उसके बाद से जंगल के बाहर बाघ के हमले की कोई घटना भी सामने नहीं आई है।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

UP Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ा तरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें patrika Hindi News App.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned