सरकारी साइटों से हो रहा चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन, प्रशासन मौन

मनमानी तरीके से सेवाएं उपलब्ध, सीट बदली लेकिन व्यवस्था नहीं

By: Santosh Pandey

Published: 10 Nov 2017, 07:59 PM IST

पीलीभीत। वैसे तो आम तौर पर चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी बैनर-होर्डिंग के माध्यम से, बिना अनुमति सभाओं आदि ऐसे कृत्यों से आदर्श आचार संहिता का उलंघन करते रहते है और उनपर कार्यवही होती है। लेकिन पीलीभीत में कुछ उल्टा ही दिख रहा है। यहाॅ तो सरकारी वेबसाइटों पर चुनाव प्रचार हो रहा है। ताजा मामला हम आपको पीलीभीत और पूरनपुर नगरपालिका से दिखा रहे है। कैसे प्रशासन की नाक के नीचे यहाॅ दो निवर्तमान चेयरमैन अपना चुनाव प्रचार कर रहे हैं। यहाॅ चुनाव परिणाम से पहले ही प्रत्याशी दोबारा चेयरमैन ही दिखाई दे रहे हैं।

पीलीभीत नगर पालिका परिषद इस बार महिला सीट हो गयी है। यहाॅ निवर्तमान चेयरमैन प्रभात जायसवाल दो बार से लगातार चेयरमेन रहे है। इस बार सीट महिला आरक्षण होने के बाद उन्होने अपनी पत्नी विमला जायसवाल को निर्दलीय खड़ा किया है। नगर पालिका परिषद के चेयरमैन पद पर होने के समय नगर पालिका पीलीभीत की सरकारी वेबसाईट nagarpalikapilibhit.com बनायी गयी थी। इस वेबसाइट पर नगर पालिका तमाम योजनाएं, प्रमाण पत्र व टेन्डर आदि सभी जानकारी व आनलाइन सेवाएं उपलब्ध है। चेयरमैन पद गये कई माह गुजर गये है लेकिन इस वेबसाइट पर अब भी चेयरमैन पीलीभीत के रूप में प्रभात जायसवाल ही है। हालांकि उनके फोटो के साथ इस सरकारी साईट पर जिलाधिकारी शीतल वर्मा व शहर विधायक संजय गंगवार का भी फोटो चस्पा है। इस वेबसाइट को देखने वालों की नज़र में आज भी यहाॅ के चेयरमेन प्रभात जायसवाल है, जबकि यहाॅ पर प्रशासक के रूप में अधिशासी अधिकारी सुरेन्द्र प्रताप व एसडीएम सदर पूर्णिमा सिंह प्रशासक के रूप में कार्यभार देख रहे है।

 

pilibhit

वहीं बात करते है नगर पालिका परिषद पूरनपुर की यहाॅ दो बार से चेयरमेन प्रदीप जायसवाल उर्फ लल्लन है। सीट अनारक्षित होने की वजह से वो तीसरी बार अपना भाग्य भाजपा के टिकट पर आजमा रहे है। मेनका गांधी और वरूण गांधी के करीबी होने के साथ-साथ वो अपना भी क्षेत्र में रूतबा रखते है। यहाॅ तो कमाल ही हो गया है, यहाॅ नगर पालिका की सरकारी वेबसाईट ूूूण्दचचनतंदचनतण्बवउ बनायी गयी थी। यहाॅ भी प्रशासन आॅखें मूॅद बैठा है और कमाल की बात तो यह है कि यहाॅ भी सरकारी वेबसाइट पर प्रदीप जायसवाल उर्फ लल्लन चेयरमेन है। गौरफर्मा यहाॅ है कि यहाॅ वेबसाईट के पहले पन्ने पर ही उनके फोटो के साथ-साथ वरूण गांधी, मेनका गांधी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की फोटो लगी हुयी है। यहाॅ भी धोखा देने वाली बात यह है कि जो भी कोई इस वेबसाइट को देख रहा है वो भ्रमित हो रहा है। लेकिन प्रशासन पर इसका कोई असर नहीं जबकि यहाॅ भी प्रशासक के रूप में एसडीएम पूरनपुर शशि भूषण राय है।

दोनों ही मामलों में जब जिलाधिकारी शीतल वर्मा से पूछा गया तो उन्होने कहा कि ऐसा मेरे संज्ञान में नहीं है अगर है तो दिखवाया जायेगा। आदर्श आचार संहिता का पालन पूर्णतः किया जायेगा। गौरतलब यह है कि जब मीडिया ने सवाल किया तब जिलाधिकारी ने संज्ञान में लेने की बात कही वर्ना जो जैसा चल रहा था चलता ही रहता।

Santosh Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned