पद्मावती पर उमा भारती का बयान, हीरो-हीरोइन नहीं विवाद के लिए राइटर और डॉयरेक्टर जिम्मेदार

पद्मावती पर उमा भारती का बयान, हीरो-हीरोइन नहीं विवाद के लिए राइटर और डॉयरेक्टर जिम्मेदार

ashutosh tiwari | Updated: 16 Nov 2017, 05:49:15 PM (IST) राजनीति

केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने पद्मावती फिल्म को लेकर एक बड़ा बयान दिया।

नई दिल्ली। पद्मावती फिल्म को लेकर देशभर में जारी विवाद शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार को एक बार फिर केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने एक बड़ा बयान दिया।
फिल्म के स्टार्स का बचाव करते हुए उमा भारती ने ट्वीट किया कि हीरो-हीरोइन की इसमें कोई गलती नहीं है। इस फिल्म को लेकर जो भी विवाद हो रहा है कि उसके लिए फिल्म के डॉयरेक्टर और राइटर जिम्मेदार हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि जब हम पद्मावती के सम्मान की बात करते हैं तो हमें महिलाओं के भी सम्मान के बारे में सोचना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें फिल्म के हीरो-हीरोइन के लिए कोई आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं करनी चाहिए। फिल्म के स्क्रिप्ट राइटर पूरी कहानी के लिए जिम्मेदार है। स्क्रिप्ट राइटर को फिल्म की कहानी लिखते वक्त लोगों की भावनाओं और ऐतिहासिक तथ्यों को ध्यान में रखना चाहिए। वहीं उन्होंने बताया कि उन्हें भरोसा दिलाया गया है कि फिल्म सेंसर बोर्ड ध्यान रखेगा कि फिल्म में कोई आपत्तिजनक चीज न जाएं।

करणी सेना ने दी है दीपिका की नाक काटने की धमकी
फिल्म के विरोध में चौतरफा बयानबाज़ियों और उग्र प्रदर्शनों के बीच करणी सेना की ओर से नया बयान आया है। ताजा जारी बयान में करणी सेना ने फिल्म में पद्मावती का किरदार निभा रहीं अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को धमकी दी है। करणी सेना के राजस्थान प्रदेशाध्यक्ष महिपाल मकराना ने कहा है कि जिस तरह लक्ष्मण ने शूर्पणखा की नाक काटी थी, ठीक उसी तरह करणी सैनिक भी उनकी नाक काट सकते हैं। करणी सेना अध्यक्ष महिपाल मकराना ने ये धमकी दीपिका पादुकोण के उस बयान पर दी जिसमें कहा गया था कि फिल्म हर हाल में रिलीज होगी। गौरतलब है कि दीपिका पादुकोण ने कहा था कि कोई भी चीज इस फिल्म के प्रसारण पर रोक नहीं लगा सकती

विवाद पर इससे पहले भी कर चुकीं हैं टिप्पणी
कैबिनेट मंत्री उमा भारती ने फिल्म की रिलीज के खिलाफ खुलकर सामने आ गई थीं। उन्होंने कहा था कि जब कोई ऐतिहासिक तथ्य पर फिल्म बनाते हैं तो उसके तथ्यों को तोड़ मरोड़ नहीं कर सकते। उन्होंने आरोप लगाया कि अलाउद्दीन खिलजी एक व्यभिचारी हमलावर था। रानी पद्मावती पर उसकी बुरी नजर थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned