भाजपा में शामिल नरेश अग्रवाल ने कहा, 'नाचने वाली' की वजह से मेरा टिकट काटा गया

जया बच्चन को टिकट दिए जाने से नाराज नेता ने उनसे नाराजगी जाहिर करते हुए उन्हें 'फिल्मों में डांस करने वाली' बताया

 

By: Pankaj Yadav

Published: 12 Mar 2018, 05:25 PM IST

नई दिल्‍ली। समाजवादी पार्टी को झटका देते हुए पार्टी महासचिव नरेश अग्रवाल ने भाजपा का दामन थाम लिया है। सोमवार को भाजपा के केंद्रीय कार्यालय में अग्रवाल ने अपने बेटे और सपा विधायक नितिन अग्रवाल के साथ भाजपा की सदस्‍यता ली। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल की मौजूदगी में अग्रवाल ने भाजपा की सदस्‍यता लेने के बाद कहा कि सपा केवल क्षेत्रीय पार्टी बनकर रह गई है।

समाजवादी पार्टी ने नरेश अग्रवाल को जब राज्‍यसभा का टिकट नहीं दिया उस समय तय हो गया था कि अग्रवाल पार्टी में नहीं रहेंगे। क्‍योंकि पिछले कुछ समय से समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव से उनकी दूरियां देखी जा रही थी। हालांकि अखिलेश और उनके पिता मुलायम सिंह यादव के बीच मचे घमासान में अग्रवाल ने अखिलेश यादव का साथ दिया था लेकिन बाद में कुछ मनमुटाव देखा जाने लगा। भाजपा से जुड़ने के बाद अग्रवाल ने कहा कि वे मुलायम सिंह यादव और रामगोपाल यादव को नहीं छोड़ सकते। अग्रवाल ने कहा कि सपा अपने मूल उद्देश्‍यों से भटक गई और अब केवल क्षेत्रीय पार्टी बनकर रह गई है।

 

विधायक बेटा भी हुआ शामिल

अग्रवाल के साथ उनके बेटे नितिन अग्रवाल ने भी भाजपा का दामन थाम लिया। नितिन हरदोई से सपा विधायक हैं और अखिलेश सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं। नितिन सपा से इस्‍तीफा देने के बाद अब विधानसभा की सदस्‍यता से भी इस्‍तीफा देंगे बाद में उपचुनाव लड़ेंगे। कांग्रेस पार्टी से सियायत शुरू करने वाले अग्रवाल बसपा और सपा में रहने के बाद अब भाजपा का दामन थाम लिया है। भाजपा से अग्रवाल का पुराना नाता रहा है। कांग्रेस से अलग होने के बाद नरेश अग्रवाल ने लोकतांत्रिक कांग्रेस का गठन किया और कल्‍याण सिंह सरकार में भी शामिल रहे। इससे पहले माना जा रहा था कि नरेश अग्रवाल को भाजपा राज्‍यसभा के उम्‍मीदवार के तौर पर समर्थन करेगी लेकिन सोमवार को नामांकन की आखिर तारीख थी।

 

BJP
Pankaj Yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned