अगस्ता वेस्टलैंड केस: कौन है क्रिश्चियन मिशेल और उस पर क्या है आरोप?

क्रिश्चियन मिशेल जेम्स साल 1980 से ही अगस्‍ता वेस्‍टलैंड कंपनी के लिए काम करने वाला बिचौलिया है। उसके पिता भी कंपनी के लिए काम कर चुके थे।

By: Dhirendra

Updated: 05 Dec 2018, 09:02 AM IST

नई दिल्‍ली। 3600 करोड़ रुपए के अगस्ता वेस्टलैंड सौदे में वांछित अपराधी क्रिश्चियन मिशेल कानूनी जद्दोजहद के बाद भारत आ गया है। दुबई से भारत में प्रत्‍यर्पण होते ही वह एक बार फिर से चर्चा में है। दुबई से भारत वापस लाने की घटना को सीबीआई की बड़ी सफलता माना जा रहा है। इसके साथ अी अब ये भी चर्चा में है कि आखिर ये आर्म्‍स डीलर क्रिश्चियन मिशेल है कौन और करता क्‍या है?

अगस्ता वेस्टलैंड: ऑपरेशन 'यूनिकॉर्न' सफल, क्रिश्चियन मिशेल को आज अदालत में पेश करेगी सीबीआई

कौन है क्रिश्चियन मिशेल?
मिशेल 1980 के दशक से ही अगस्‍ता वेस्‍टलैंड कंपनी के साथ काम कर रहा था। इससे पहले उसके पिता भी भारतीय क्षेत्र के लिए कंपनी के सलाहकार रह चुके थे। वह हेलीकॉप्टर, फाइटर प्‍लेन, आर्म्‍स ट्रेड, सैन्य अड्डों और पायलटों की तकनीकी जानकारी का विशेषज्ञ माना जाता है। अगस्‍ता वेस्‍टलैंड डील में उसने अहम भूमिका निभाई थी। 57 वर्षीय मिशेल, फरवरी 2017 में गिरफ्तारी के बाद से दुबई की जेल में था। उसे यूएई में कानूनी और न्यायिक कार्यवाही के लंबित रहने तक हिरासत में भेज दिया गया था। वह अगसता वेस्‍टलैंड सौदे में भी वांछित है। मिशेल पर आरोप है कि उसने सह-आरोपियों के साथ मिलकर आपराधिक षडयंत्र रचा। सह आरोपी में तत्कालीन वायुसेना प्रमुख एस पी त्यागी और उनके परिवार के सदस्य शामिल हैं।

क्‍यों है चर्चा में
मिशेल अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर्स सौदे में सलाहकार की भूमिका में था। मिशेल ने अगस्ता वेस्टलैंड डील 3600 करोड़ रुपए में फाइनल कराई थी। इस काम के लिए क्रिश्चियन को करीब 350 करोड़ रुपए सौंपे थे, जो भारतीय राजनेताओं, एयरफोर्स के अधिकारियों और ब्यूरोक्रेट्स को देने थे। इस बात का खुलासा होने के बाद से मिशेल इस मामले में चर्चा में आया और भारतीय जांच एजेंट उसे गिरफ्तार करने को लेकर खाक छानती रही। मिशेल पर आरोप है कि उसने अन्य आरोपियों के साथ मिलकर आपराधिक षडयंत्र रचा। सह आरोपी में तत्कालीन वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी और उनके परिवार के सदस्य शामिल हैं। षड्यंत्र के तहत लोक सेवकों ने वीवीआईपी हेलीकॉप्टर की उड़ान भरने की ऊंचाई 6,000 मीटर से घटाकर 4500 मीटर कर अपने सरकारी पद का दुरुपयोग किया।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned