अमित शाह का बड़ा ऐलान, BJP-JDU का गठबंधन अटूट, नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगा NDA

  • बिहार विधानसभा चुनाव ( Bihar Vidhan sabha Election ) को लेकर अमित शाह ( Amit Shah ) का बड़ा ऐलान
  • नीतीश कुमार ( Nitish Kumar ) के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगा NDA

Kaushlendra Pathak

January, 1708:25 AM

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव ( Bihar Vidhan sabha Election ) में भले ही देरी हो, लेकिन सियासी सरगर्मी तेज हो गई है। आलम ये है कि राजनीतिक पार्टियों ने अभी से पूरी ताकत झोंक दी है। इसी कड़ी में बीजेपी ( BJP ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह ( Amit Shah ) ने बड़ा ऐलान किया है। अमित शाह ने कहा कि बिहार में बीजेपी और जेडीयू ( JDU ) का गठबंधन अटूट है।

हाजीपुर ( Hajipur ) में शाह ने कहा कि इस साल होने वाला विधानसभा चुनाव भी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन ( NDA ) मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ( Nitish Kumar ) के नेतृत्व में लड़ेगा। उन्होंने कहा कि इस गठबंधन में कोई सेंधमारी नहीं हो सकती।उन्होंने कहा कि लालू यादव को जेल में रह कर फिर से मुख्यमंत्री बनने का सपना आने लगा है। गृह मंत्री ने कहा कि जब बिहार में लालू प्रसाद का राज था तब बिहार का विकास दर तीन फीसदी था। नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार का विकास दर 11 फीसदी है। बिहार में राजग की सरकार लगातार अच्छा काम कर रही है। उन्होंने कहा कि लालू राज में जंगल राज था और आज जनता का राज है।

वहीं, नागरिकता संशोधन अधिनियम ( CAA ) के समर्थन में जन जागरूकता जनसभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि यह कानून किसी की नागरिकता छीनने का नहीं बल्कि नागरिकता देने का कानून है। उन्होंने कहा कि विरोधी इस मामले में युवाओं और मुसलमानों को गुमराह कर रहे हैं। अमित शाह ने कहा कि देश जब आजाद हुआ तो पूर्वी और पश्चिमी पाकिस्तान में तीस-तीस फीसदी अल्पसंख्यक थे, लेकिन इन्हें प्रताड़ित कर खदेड़ दिया गया। इनका धर्म परिवर्तन किया गया। विरोधी दल ऐसे प्रताड़ित लोगों को नागरिकता देने का क्यों विरोध कर रहे हैं? शाह ने कहा कि जिस परिवार में पिता के सामने बेटी का, पति के सामने पत्नी का दुष्कर्म किया गया, गुरुद्वारों और मंदिरों को मस्जिद बना दिया गया उनके मानवाधिकारों का हनन किया गया। मैं ह्यूमन राइट्स के चौंपियनों से पूछना चाहता हूं कि जब ये सिटिजनशिप अमेंडमेंट एक्ट उन लोगों के राइट्स लौटाने के लिए है तो इसका विरोध क्यों हो रहा है।

Kaushlendra Pathak Content
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned