आमचुनाव की तैयारी में भाजपा, अमित शाह ने अकाली नेताओं से मुलाकात की

बता दें कि अमित शाह संपर्क फॉर समर्थन के तहत लोगों से मुलाकात कर रहे हैं।

By: Prashant Jha

Published: 07 Jun 2018, 03:19 PM IST

चंडीगढ़: भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह गुरुवार को चंडीगढ़ में शिरोमणि अकाली दल के शीर्ष नेतृत्व के साथ बंद कमरे में मुलाकात की। अमित शाह ने अकाली दल के संरक्षक व पांच बार मुख्यमंत्री रहे प्रकाश सिंह बादल और उनके बेटे व पार्टी अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल से मुलाकात की। सुखबीर सिंह बादल की पत्नी हरसिमरत कौर बादल, नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हैं। बीते साल की शुरुआत में हुए पंजाब विधानसभा चुनावों में दोनों पार्टियों के गठबंधन ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था। उत्तर भारत के अधिकांश राज्यों में स्पष्ट मोदी लहर के बावजूद इन्होंने अप्रैल-मई 2014 में लोकसभा चुनावों में भी अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था। पंजाब में तीन दशक से ज्यादा समय से चल रहा अकाली दल-भाजपा गठबंधन 2017 के विधानसभा चुनावों में तीसरे नंबर पर रहा था। आम आदमी पार्टी (आप) को 117 सदस्यों वाली विधानसभा में 20 सीटें हासिल हुई थीं और यह राज्य की प्रमुख विपक्षी पार्टी बनी थी। अमित शाह महासंपर्क अभियान के तहत मिल्खा सिंह से भी मुलाकात करेंगे।

उद्धव ठाकरे से की मुलाकात

बता दें कि अमित शाह संपर्क फॉर समर्थन के तहत बुधवार को एनडीए के सहयोगी दल शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से भी मुलाकात की। अमित शाह मुंबई स्थित मातोश्री जाकर ठाकरे से मुलाकात की। हालांकि मुलाकात के बाद भी शिवसेना ने कहा कि 2019 का आम चुनाव अकेले लड़ेगी। इससे पहले अमित शाह उद्योगपति रतन टाटा, अभिनेत्री माधुरी दीक्षित से भी मुलाकात की।

पांच सीटों पर भाजपा अकाली दल का गठबंधन

कांग्रेस को 2017 के विधानसभा चुनावों में 77 सीटें मिलीं। कांग्रेस राज्य में (2007 से 2017 तक) करीब एक दशक तक सत्ता से बाहर रही। इस अवधि के दौरान अकाली दल-भाजपा गठबंधन का पंजाब में शासन रहा। पंजाब की 13 लोकसभा सीटों में से कांग्रेस व आप के पास चार-चार सीटें है, जबकि अकाली-भाजपा गठबंधन के पास पांच सीटें (भाजपा के पास एक व अकाली दल के पास चार) हैं।

Amit Shah
Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned