TMC जॉइन करने के बाद Mamata Banerjee से मिले बाबुल सुप्रियो, बोले- दीदी ने मुझे मन से काम करने और गाने को कहा

बीजेपी छोड़ने टीएमसी में आए बाबुल सुप्रियो ने पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से की मुलाका, बोले- उनकी हर बात मेरे कानों को संगीत की तरह लगी

By: धीरज शर्मा

Published: 20 Sep 2021, 04:54 PM IST

नई दिल्ली। बीजेपी ( BJP ) छोड़कर पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस ( TMC ) ज्वाइन करने वाले बाबुल सुप्रियो ( Babul Supriyo ) ने सोमवार को प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ( Mamata Banerjee ) से कोलकाता में मुलाकात की। टीएमसी में आने के बाद सुप्रियो की ममता से ये पहली मुलाकात थी।

मुलाकात के बाद बाबुल सुप्रियो ने कि टीएमसी प्रमुख से मिलकर मुझे काफी खुशी हुई। टीएमसी परिवार में उन्होंने मेरा बड़ी ही गर्मजोशी के साथ स्वागत किया है। दीदी ने मुझे कहा कि 'मैं दिल से काम करूं और दिल से गाने गाऊं।'

बाबुल सुप्रियो ने अपनी खुशी जाहिर करते हुए कहा कि दीदी ने बेहद ममत्व और गर्मजोशी के साथ टीएमसी परिवार में मेरा स्वागत किया है।

यह भी पढ़ेंः West Bengal By Election: आचार बेचने वाले से लेकर योगा ट्रेनर तक, भवानीपुर में 12 प्रत्याशी दे रहे ममता बनर्जी को टक्कर

बाबुल ने बताया कि ममता बनर्जी ने उनसे कहा है कि 'तुम पूरे मन से लोगों की सेवा करो और दिल खोलकर सिंगिंग करो। उनकी इस बात ने मेरा दिल खुश कर दिया है।'

सुप्रियो ने कहा कि, हमारे बीच बहुत संगीतमय बात हुई। ममता बनर्जी ने मुझसे जो भी कहा वह मेरे कानों के लिए संगीत की तरह ही है। 'मैं दीदी और अभिषेक बनर्जी का शुक्रिया अदा करता हूं। इन दोनों ने टीएमसी परिवार में जिस प्यार और गर्मजोशी के साथ मेरा स्वागत किया है वह बहुत शानदार है।'

बता दें कि नरेंद्र मोदी की कैबिनेट से हटाए जाने के बाद बाबुल सुप्रियो ने पिछले दिनों राजनीति से संन्यास की घोषणा की थी। इसके कुछ दिनों के बाद वह टीएमसी में शामिल हो गए।

यह भी पढ़ेंः West Bengal: TMC कैंडिडेट सुष्मिता देव निर्विरोध पहुंचेंगी राज्यसभा, BJP ने नहीं उतारा उम्मीदवार

बाबुल ने कहा, मैं पार्टी बदलकर कोई इतिहास नहीं बना रहा हूं। ऐसे पहले भी कई बार हो चुका है। उन्होंने कहा, मैं आसनसोल से सांसद हूं, बुधवार को दिल्ली जाऊंगा अगर स्पीकर मुझे समय देंगे तो मैं उसी दिन इस पद से इस्तीफा भी सौंप दूंगा।

बाबुल सुप्रियो ने कहा कि उन्हें किसी को कुछ साबित नहीं करना है और वह 2014 में आसनसोल से बीजेपी के टिकट पर सांसद बनने के बाद से ही जमीनी स्तर की राजनीति करते रहे हैं।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned