बंगाल : कांग्रेस-लेफ्ट-आईएसएफ के बीच सीट शेयरिंग फॉर्मूला पर बनी सहमति, अधीर रंजन भी राजी

  • 37 सीटें मिलने पर एक साथ चुनाव लड़ने पर सहमत हो गए अब्बास।
  • वामपंथी पार्टियों के खाते में गईं 165 सीटें।

 

 

By: Dhirendra

Updated: 03 Mar 2021, 01:08 PM IST

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के लिए बुधवार को कांग्रेस, लेफ्ट और आईएसएफ के बीच सीट शेयरिंग को लेकर सहमति बन गई है। जानकारी के मुताबिक लेफ्ट पार्टियां सबसे ज्यादा 165, कांग्रेस को 92 और फुरफुरा शरीफ दरगाह के पीरजादा अब्बास सिद्दीकी की पार्टी इंडियन सेक्युलर फ्रंट ( आईएसएफ ) के खाते में 37 सीटें गई हैं। इसके साथ ही अब पश्चिम बंगाल में चुनाव ट्राइंगल होने के आसार बढ़ गए हैं।

बता दें कि आईएसएफ को पहले 30 सीटें दी गई थीं, लेकिन इसके लिए वो राजी नहीं हुए थे। इसके सीटें और 8 सीटें बढ़ाई गई हैं। सीट का फ़ॉर्मूला तय होने के बाद बहुत जल्द पहले दो चरणों के चुनाव के लिए 60 उम्मीदवारों की लिस्ट आ सकती है।

30 सीटों पर 27 मार्च को डाले जाएंगें वोट

पहले चरण में पश्चिम बंगाल की 294 में से 30 सीटों पर 27 मार्च को वोट डाले जाएंगें। दूसरे चरण में 30 सीटों पर एक अप्रैल को, तीसरे चरण में 31 सीटों पर 6 अप्रैल को, चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को, पांचवे चरण में 45 सीटों पर 17 अप्रैल को, छठे चरण में 43 सीटों पर 22 अप्रैल को, सातवें चरण में 36 सीटों पर 26 अप्रैल को और आठवें चरण में 35 सीटों पर 29 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे।

Congress
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned