कमल प्रिंट वाला मास्क पहनकर मतदान करने पर घिरे बिहार के मंत्री ने दी सफाई

  • कृषि मंत्री प्रेम कुमार गया के स्वराजपुरी मतदान केंद्र में कमल के फूल वाला मास्क पहनकर वोट डालने पहुंचे थे
  • उन्होंने दी सफाई, मेरी ऐसी कोई मंशा नहीं थी और मुझे किसी ने इस तरफ ध्यान भी नहीं दिलाया

By: Saurabh Sharma

Updated: 28 Oct 2020, 01:55 PM IST

नई दिल्ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार वोट डालने के दौरान कमल के फूल की प्रिंट वाला मास्क पहने एक मतदान केंद्र पहुंचने पर विवादों में आने के बाद अब सफाई दी है। इधर, निर्वाचन आयोग ने भी कार्रवाई करने के संकेत दिए हैं। कुमार गया शहर से भाजपा के उम्मीदवार हैं और वे इस सीट से छह बार चुने गए हैं।

कृषि मंत्री प्रेम कुमार बुधवार को गया के स्वराजपुरी के रोड नंबर 120 स्थित मतदान केंद्र अपना वोट डालने साइकिल से पहुंचे थे। प्रेम कुमार ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया, लेकिन इस दौरान उन्होंने कमल छाप वाला मास्क पहना रखा था। उन्होंने मतदान के दौरान भी इसे नहीं निकाला और कमल छाप का निशान का मास्क लगाकर ही वोट दिया। इसके बाद यह मामला विवादों में आ गया।

इधर, बिहार के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एच आर श्रीनिवास ने कहा कि अगर कोई भी आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करता है, तो कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि गया के अधिकारी इस मामले को देख रहे हैं।

इधर, मंत्री प्रेम कुमार ने इस मामले में सफाई देते हुए कहा कि गलती से ऐसा हो गया। उन्होंने कहा कि ऐसी उनकी कोई मंशा नहीं थी। उन्होंने कहा, ''मेरी ऐसी कोई मंशा नहीं थी और मुझे किसी ने इस तरफ ध्यान भी नहीं दिलाया। अधिक व्यस्तता के कारण भाजपा का मास्क पहन के मैं वोट देने चला गया था।''

बिहार में 16 जिलों की 71 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं जबकि दो और चरण की वोटिंग 3 और 7 नवंबर को होनी है। बिहार चुनाव के बाद मतों की गिनती 10 नवंबर को होगी।

bihar assembly election
Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned