महबूबा के बयान पर भाजपा का बड़ा हमला, मोदी सरकार का साथ न होता तो कब्रिस्तान बन जाता घाटी

Kaushlendra Pathak

Publish: Jul, 13 2018 06:43:09 PM (IST)

राजनीति
महबूबा के बयान पर भाजपा का बड़ा हमला, मोदी सरकार का साथ न होता तो कब्रिस्तान बन जाता घाटी

महबूबा के बयान पर भाजपा ने जमकर हमला बोला है।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर सियासी माहौल गरमा गया है। शुक्रवार सुबह जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती ने भाजपा पर जमकर हमला बोला था। मुफ्ती का कहना था कि अगर भाजपा हमारी पार्टी को तोड़ने की कोशिश करेगी तो घाटी में एक बार फिर सलाहुद्दीन पैदा होगा। वहीं, भाजपा ने अब मुफ्ती के बयान पर पलटवार किया है। जम्मू-कश्मीर से भाजपा नेता रविंदर रैना ने कहा कि महबूबा जिस मोदी सरकार पर आरोप लगा रही हैं, अगर उसने साथ नहीं दिया होता तो आतंकी घाटी को कब का कब्रिस्तान बना चुके होते।

भाजपा का महबूबा मुफ्ती पर जोरदार हमला

एक टीवी चैनल से बात करते हुए रविंदर रैना ने कहा कि जब आप सत्ता से बाहर हो गईं तो आप सैयद सलाहुद्दीन और यासीन मलिक को याद कर रही हैं। उन्होंने कहा कि सभी जानते हैं कि सलाहुद्दीन और यासीन मलिक हत्यारे हैं। अब उन लोगों को याद करने का मतलब है कि आप उनके जख्मों पर नमक छिड़क रही हैं, जिनके परिवारवालों को पाकिस्तानी आतंकियों ने जान से मार दिया था। रैना ने कहा कि अगर दिल्ली का जम्मू-कश्मीर को सपोर्ट नहीं होता तो पाकिस्तानी आतंकी, अलगाववादी और पत्थरबाज आम कश्मीरियों का नरसंहार कर चुके होते। वहीं, केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने महबूबा के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस तरह के बयान से महबूबा को कोई फायदा नहीं होने वाला है। उन्होंने कहा कि कम से कम उन्हें अलगाववादियों की भाषा तो बिल्कुल नहीं बोलनी चाहिए।

क्या कहा था महबूबा ने?

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से पीडीपी के कुछ विधायक पार्टी से अलग चलकर बयान दे रहे हैं। साथ ही पार्टी छोड़कर अलग मोर्चा बनाने की भी धमकी दे रहे हैं। जिस पर शुक्रवार को महबूबा ने मीडिया के सामने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाए। महबूबा ने कहा कि दिल्ली की सरकार उनकी पार्टी को तोड़ने की कोशिश कर रही है। उन्होंने सीधे धमकी दी कि अगर ऐसा होता है तो कश्मीर में एक बार फिर सलाहुद्दीन जैसे नेता पैदा होंगे। महबूबा के इस बयान के बाद सियासी माहौल काफी गरमा गया है।

Ad Block is Banned