MP Politics: भाजपा की सरकार बनते ही सिंधिया के खिलाफ लगा धोखाधड़ी का केस बंद हुआ

  • सिंधिया ट्रस्ट की जमीन को बेचने के मामले में दर्ज हुआ था मामला
  • भाजपा में शामिल होते हुए दोबारा शुरू हुआ था केस, अब हुआ बंद

Shailendra Tiwari

24 Mar 2020, 04:07 PM IST

नई दिल्ली.

भाजपा में शामिल होते ही पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ शुरू किया गया धोखाधड़ी का मामला सरकार बनते ही बंद कर दिया गया है। सिंधिया ट्रस्ट से जुड़ी जमीन को बेचने के मामले में आर्थिक अपराध अनुसंधान ने मामला शुरू किया था, लेकिन सरकार बदलते ही मामले को जांच एजेंसी ने बंद कर दिया है। मालूम हो, कमलनाथ सरकार के इस्तीफे के बाद सोमवार रात को ही मुख्यमंत्री के तौर पर शिवराज सिंह चौहान ने शपथ ली थी। उसके बाद ही मामले को वापस ले लिया गया है।

दरअसल, 2009 में सिंधिया ट्रस्ट की एक जमीन बेचने के मामले में आर्थिक अपराध अनुसंधान ब्यूरो में सुरेंद्र श्रीवास्तव की शिकायत पर ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके परिवार के लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था। मामला 2012 में दर्ज हुआ और 2018 में भाजपा सरकार में ही मामले को खत्म कर दिया गया। लेकिन 12 मार्च को ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जैसे ही भाजपा का दामन थामा। सुरेंद्र श्रीवास्तव को तत्काल बुलाकर दोबारा मामले की जांच शुरू कर दी गई।

जांच शुरू करने के पीछे की वजहें राजनीतिक मानी जा रही थीं, क्योंकि सिंधिया अपने साथ कांग्रेस के 22 विधायकों को लेकर अलग हुए थे। ऐसे में कांग्रेस सरकार ने दबाव बनाने के लिए सिंधिया के खिलाफ मामले की जांच दोबारा शुरू कर दी। हालांकि भाजपा की सरकार बनने के बाद मामले की जांच को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है।

Jyotiraditya Scindia
shailendra tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned