BJP Jan Ashirwad Rally: केंद्रीय मंत्री ने राहुल गांधी पर की अभद्र टिप्पणी, कांग्रेस ने की मोदी कैबिनेट से हटाने की मांग

BJP Jan Ashirwad Rally: जन-आशीर्वाद यात्रा के तहत महाराष्ट्र के जालना जिले में केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी पर अमार्यादित टिप्पणी कर दी। इस विवादित बयान को असभ्य और चौंकाने वाला बताते हुए कांग्रेस ने उन्हें केंद्रीय कैबिनेट से हटाए जाने की मांग की है।

By: Anil Kumar

Updated: 21 Aug 2021, 04:46 PM IST

मुंबई। लोकसभा चुनाव 2024 और उससे पहले तकरीबन 8 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर तमाम पार्टियों ने अपनी-अपनी रणनीति बनानी शुरू कर दी है। वहीं मतदाताओं को अभी से ही रिझाने और अपने साथ जोड़ने की कवायद की जा रही है। इसी कड़ी में भारतीय जनता पार्टी (BJP) पूरे देश में जन आशीर्वाद रैली कर रही है।

लेकिन अब इस रैली के साथ विवाद भी जुड़ता जा रहा है। दरअसल, हाल ही में मोदी मंत्रीमंडल में शामिल केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर अमर्यादित टिप्पणी कर दी। दानवे की इस अभद्र टिप्पणी को लेकर कांग्रेस आगबबूला है और मंत्री के इस्तीफे की मांग कर रही है।

यह भी पढ़ें :- दिलीप घोष का ममता सरकार पर आरोप, कहा- राज्य में रोकी जा रही 'जन आशीर्वाद रैलियां'

जानकारी के अनुसार, रेलवे राज्य मंत्री रावसाहेब दानवे ने जन-आशीर्वाद यात्रा के तहत महाराष्ट्र के जालना जिले में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने राहुल गांधी पर अमार्यादित टिप्पणी कर दी। इस टिप्पणी को लेकर विवाद खड़ा हो गया। कांग्रेस ने दानवे के विवादित बयान को असभ्य और चौंकाने वाला बताते हुए उन्हें केंद्रीय कैबिनेट से हटाए जाने की मांग की है।

केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे ने राहुल गांधी पर की ये अभद्र टिप्पणी

जानकारी के मुताबिक, महाराष्ट्र के जालना जिले में एक जनसभा को मराठी में संबोधित करते हुए दानवे ने राहुल गांधी पर अभद्र टिप्पणी करते हुए उनकी तुलना एक सांड से कर दी। उन्होंने कहा ''राहुल गांधी किसी के काम नहीं आ सकते हैं। वे भगवान को समर्पित सांड की तरह हैं। वे जहां-तहां घूमते रहते हैं, लेकिन किसी के काम नहीं आ सकते हैं। मैं 20 सालों से लोकसभा में हूं और उनका काम देखा है।''

यह भी पढ़ें :- केंद्रीय राज्य मंत्री कौशल किशोर की जन आशीर्वाद यात्रा, जनता से कही ये बड़ी बात

केंद्रीय मंत्री दानवे यहीं नहीं रूके, उन्होंने आगे कहा "महाराष्ट्र के ग्रामीण इलाकों और देश के कुछ हिस्सों में ये चलन है कि नए जन्मे बछड़े को स्थानीय देवता को समर्पित कर दिया जाता है। इन सांडों को खेती-किसानी में इस्तेमाल नहीं किया जाता है। ऐसे में ये इधर-उधर घूमते रहते हैं। ऐसा कोई सांड खेत में घुसकर फसल भी खाल लेता है.. तो किसान भी उसे यह कहकर माफ कर देता है कि इसे खाने की जरूरत है।''

कांग्रेस ने की बर्खास्त करने की मांग

केंद्रीय मंत्री रावसाहेब के बयान पर आपत्ति जताते हुए कांग्रेस ने उन्हें मोदी मंत्रीमंडल से बर्खास्त किए जाने की मांग की। महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने उनके इस्तीफे की मांग करते हुए कहा ''उन्होंने (दानवे) सभी सीमाएं लांघ दी हैं। उनकी टिप्पणी असभ्य और चौंकाने वाली है। राहुल गांधी के खिलाफ इस तरह के असभ्य शब्दों का इस्तेमाल करने को लेकर हम उन्हें केंद्रीय कैबिनेट से निकालने की मांग करते हैं।'' पटोले ने आगे कहा कि राहवसाहेब का ट्रैक रिकॉर्ड बहुत ही खराब रहा है। ऐसे में हैरानी है कि इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करने का ट्रैक रिकॉर्ड होने के बावजूद सरकार ने उन्हें इतना महत्वपूर्ण पद दिया है।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned