सुप्रीम कोर्ट ने दिया रविदास मंदिर के पक्ष में फैसला, भाजपा ने जताई खुशी

  • भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने दिया मोदी सरकार को श्रेय।
  • अस्थायी नहीं बल्कि भव्य मंदिर का होगा निर्माण।
  • बीते 10 अगस्त को डीडीए ने कर दिया था ध्वस्त।

Amit Kumar Bajpai

October, 2107:20 PM

राजनीति

नई दिल्ली। सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दिल्ली के तुगलकाबाद में संत रविदास मंदिर का पुनर्निर्माण होगा। सर्वोच्च अदालत के इस फैसले पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने खुशी जताई है। सुप्रीम कोर्ट ने बीते 10 अगस्त को ध्वस्त किए गए स्थान पर ही फिर से मंदिर बनाने के केंद्र सरकार के प्रस्ताव को मानते हुए एक समिति गठित करने का आदेश दिया था।

ब्रेकिंगः JK गर्वनर सत्यपाल मलिक की बड़ी चेतावनी, अगर अब नहीं सुधरे तो अंदर घुसकर कर देंगे...

इस संबंध में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दुष्यंत कुमार गौतम ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कहा, "यह मोदी सरकार की पहल से संभव हुआ है। मोदी सरकार जन-भावनाओं और संत रविदास भक्तों का सम्मान करती है। यही वजह है कि केंद्र सरकार ने उसी स्थान पर मंदिर निर्माण के लिए चार सौ वर्ग मीटर जमीन दी है। यहां लकड़ी आदि से अस्थायी नहीं, बल्कि पूरी तरह भव्य स्थायी मंदिर बनेगा।"

भाजपा उपाध्यक्ष ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने मंदिर निर्माण की निगरानी के लिए छह हफ्ते के भीतर कमेटी गठित करने का भी आदेश दिया है।

उन्होंने कहा कि पार्टी और सरकार दोनों रविदास भक्तों की आस्था के अनुरूप मंदिर निर्माण के प्रति प्रतिबद्ध है। दुष्यंत गौतम ने बताया कि मंदिर स्थल पर चार समाधि भी बनेंगी।

आप का बड़ा आरोप, भाजपा वापस लेगी मुफ्त बिजली योजना

बता दें कि दक्षिणी दिल्ली के तुगलकाबाद में बीते 10 अगस्त को दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने रविदास मंदिर को ध्वस्त कर दिया था, जिसके बाद इलाके में काफी बवाल हुआ था।

दलित संगठनों के लोग सड़क पर उतर आए थे और रामलीला मैदान में भी बड़ा प्रदर्शन किया गया था। हिंसा व तोड़फोड़ में शामिल होने के आरोप में 90 से अधिक लोगों की गिरफ्तारी भी हुई थी।

Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned