West Bengal: ममता सरकार के खिलाफ BJP का 'नबन्ना चलो' आंदोलन, प्रशासन ने बंद किया हावड़ा ब्रिज

  • West Bengal में ममता सरकार के खिलाफ BJP ने बोला हमला
  • बीजेपी कर्यकर्ताओं का 'नबन्ना चलो' आंदोलन
  • सड़कों पर उतरी बीजेपी, बंद किया गया हावड़ा ब्रिज

By: धीरज शर्मा

Updated: 08 Oct 2020, 02:00 PM IST

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल ( West Bengal ) में चुनाव से पहले राजनीतिक दलों के बीच घमासान चरम पर है। प्रदेश में कार्यकर्ताओं और नेताओं की हत्या को भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) ने ममता सरकार ( Mamata Govt ) के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। विरोध प्रदर्शन करते हुए बीजेपी कार्यकर्ता कोलकाता की सड़कों पर उतर आए।

बीजेपी के 'नबन्ना चलो' आंदोलन के चलते राजधानी कोलकाता में जगह-जगह प्रदर्शन किए जा रहे हैं। इस वजह से विद्यागसागर सेतु और हावड़ा ब्रिज को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है।

रेल रोको आंदोलन ने बढ़ाई मुश्किल, अब इन राज्यों में गहराने लगा पेट्रोल डीजल का संकट

बीजेपी कार्यकर्ताों ने की बैरिकेड तोड़ने की कोशिश

प्रदर्शन के दौरान बीजेपी कार्यकार्ताओं का उग्र प्रदर्शन देखने को मिला। हावड़ा ब्रिज को बंद करने के लिए प्रशासन की ओर से लगाए गए बैरिकेड को बीजेपी वर्कर तोड़ते हुए नजर आए।

वहीं बीजेपी कार्यकर्ताों को खदेड़ने के लिए पुलिस बल का प्रयोग किया गया। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पुलिसकर्मियों पर लाठीचार्ज का आरोप भी लगाया।

कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया जन आंदोलन का आगाज, देश को दिया ये बड़ा मंत्र

'नबन्ना चलो' आंदोलन
कोलकाता में बीजेपी के प्रदर्शन को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी के मुख्यालय के बाहर भारी पुलिस की तैनाती की गई है। बीजेपी कार्यकर्ता बड़ी संख्या में 'नबन्ना चलो' ( कोलकाता में सचिवालय का नाम है नबन्ना ) आंदोलन के लिए इकट्ठा हुए हैं और राज्य सरकार के खिलाफ नारे लगा रहे हैं।

बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि पश्चिम बंगाल सरकार डरती है। यही वजह है कि विरोध के बुनियादी लोकतांत्रिक अधिकारों को भी नकार रही है। राज्य सचिवालय बंद कर दिया गया है।

बीजेपी निकाल रही चार रैलियां
आपको बता दें कि बीजेपी गुरुवार को पश्चिम बंगाल में चार प्रमुख रैलियां निकाल रही है। कोलकाता से तीन रैलियां निकल रही हैं तो हावड़ा के सिबपुर से राज्य सचिवालय की ओर से भी मार्च हो रहा है। यही वजह है कि हावड़ा ब्रिज को बंद कर दिया गया है। किसी भी तरफ से कोई भी गाड़ी ने आ सकती है और न ही जा सकती है।

हालांकि बीजेपी ने कहा है कि हम शांतिपूर्ण तरीके से ही मार्च करेंगे, लेकिन प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्थाओं के खिलाफ अपना विरोध जरूर जताएंगे।

बीजेपी के प्रदर्शन को देखते हुए ममता सरकार ने सचिवालय नाबन्ना को दो दिनों के लिए बंद कर दिया है। हालांकि हावड़ा में स्थित इस सचिवालय में 8 अक्टूबर और 9 अक्टूबर को बंद करने की वजह सैनिटाइजेशन भी बताई गई है।

सचिवालय के आस-पास धारा 144
ममता सरकार ने बीजेपी के विरोध प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा व्यवस्था का पुख्ता इंतजाम किए हैं। इसके तहत सचिवालय नबन्ना के आस-पास के इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गई है।

बीजेपी की रैली सचिवालय तक न पहुंच पाए इसके लिए नबन्ना की ओर आ रहे रास्तों पर 5 डीआईजी स्तर के अधिकारी तैनात हैं।

Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned