BJP की मंगलुरु चलो रैली: ज्योति सर्किल पर पुलिस और कार्यकर्ताओं की हुई भिड़ंत

कर्नाटक पुलिस ने सुरक्षा के लिहाज से ज्योति सर्किल के आसपास पहले से ही सुरक्षा बढ़ा दी थी।

By:

Updated: 07 Sep 2017, 04:23 PM IST

मंगलुरु: BJP की 'मंगलुरु चलो' रैली से कर्नाटक की सियासत काफी गर्मा गई है। बेंगलुरु के बाद ये रैली गुरुवार को मंगलुरु के ज्योति सर्किल पहुंची, जहां पर पुलिस और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। झड़प के दौरान पुलिस और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई की भी खबरें हैं।

पुलिस ने कर रखे थे सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
आपको बता दें कि बीजेपी रैली के यहां पहुंचने से पहले पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर लिए थे। शहर में जगह-जगह पर पुलिस का पहरा था। कर्नाटक पुलिस ने सुरक्षा के लिहाज से ज्योति सर्किल के आसपास पहले से ही सुरक्षा बढ़ा दी थी।

पुलिस ने नहीं दी थी रैली की अनुमति
आपको बता दें कि कर्नाटक पुलिस ने इस बाइक रैली की अनुमति नहीं दी थी, जबकि पुलिस ने नेहरु मैदान में तीन घंटे के लिए बीजेपी को रैली करने की इजाजत दी थी, लेकिन बाइक रैली की अनुमति नहीं दी गई थी। इससे पहले मंगलवार को भी बेंगलुरु में बीजेपी कार्यकर्ताओं की इस रैली के दौरान पुलिसवालों से झड़प हो गई थी, जिसमें कई बीजेपी कार्यकर्ता हिरासत में ले लिए गए थे।

कल भी हुई थी झड़प
बुधवार को भी पुलिस और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प हुई। पुलिस ने जब इस बाइक रैली को रोकने की कोशिश की तो बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पुलिस अधिकारियों से कहा कि हम कांग्रेस नहीं हैं, राज्य में अगले साल सरकार बना रहे हैं।

पार्टी के बड़े नेता हुए रैली में शामिल
इस बाइक रैली में कर्नाटक बीजेपी के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा, शोभा करांदलाजे, सांसद नलिन कुमार, पूर्व मुख्यमंत्री जगदीश शेट्टर, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ईश्वरप्पा, आर अशोक, प्रताप सिन्हा, अरविंद लिंबावली, बीजेपी के जिला अध्यक्ष संजीव मतांडुर, सीटी रवि और बीजेपी के कई विधायक और एमएलसी इस रैली में शामिल हुए थे। राज्य में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों  को देखते हुए बीजेपी अपने चुनाव अभियान के तहत इस तरह की रैलियोें का आयोजन कर रही है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned